18 April 2024

DHANBAD:पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार को इंडियाज टेकेड चिप्स फॉर विकसित भारत कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने करीब 1.25 लाख करोड़ रुपये की तीन सेमीकंडक्टर सुविधाओं की आधारशिला रखी।

Ad Space

जिसका लाइव स्ट्रीमिंग आईआईटी आइएसएम धनबाद के पेनमैन ऑडिटोरियम में भी की गई। इस दौरान संस्थान के कार्यवाहक निदेशक प्रो.जेके पटनायक, प्रो.धीरज कुमार, उप निदेशक सहित संस्थान के विभागध्यक्ष, सदस्य, अधिकारी और छात्र छात्राएं मौजूद थी।

प्रधानमंत्री के संबोधन से पूर्व आईआईटी आईएसएम में कार्यक्रम के दौरान, आईआईएससी बैंगलोर के संकाय सदस्य और एजीएनआईटी सेमीकंडक्टर्स प्राइवेट लिमिटेड के सह-संस्थापक प्रोफेसर मयंक श्रीवास्तव का ऑनलाइन व्याख्यान हुआ।

जिनका काम मुख्य रूप से सेमीकंडक्टर के अनुप्रयोगों के आसपास घूमता है। इलेक्ट्रॉनिक और इलेक्ट्रो ऑप्टिक्स में सामग्री, “सेमीकंडक्टर अनुसंधान एवं विकास और विनिर्माण में भारत के नेतृत्व के लिए एक दृष्टिकोण क्या, क्यों और कैसे” पर बात की।

इस अवसर पर श्री श्रीवास्तव ने महत्वपूर्ण प्रश्न, भारतीय संदर्भ में इको-सिस्टम/मांग और आपूर्ति समीकरण, फैब जिसमें भारत को निवेश करना चाहिए, आर एंड डी में निवेश करने की आवश्यकता, 2 डी सेमीकंडक्टर्स: भारत के लिए नेतृत्व करने का एक अवसर, भारत के बारे में बात की।

इस दौरान संस्थान के निदेशक जेके पटनायक ने प्रधानमंत्री को इस कार्य के लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि आज देश के लिए गर्व करने वाला दिन है।

उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में देश सेमीकंडक्टर मेन्युफेक्चरिंग एन्ड रिलेटेड ईसु में अब काफी आगे बढ़ जाएगा। सेमीकंडक्टर से आने वाले दिनों में देश टेक्निकल क्षेत्र में काफी तरक्की करेगा। इससे न सिर्फ देश मे रोजगार के अवसर बढ़ेंगे, बल्कि रिसर्च एंड डेवलपमेंट के क्षेत्र में भी भारत काफी आगे निकल जाएगा। इसके आने से छात्रों को अब काफी एडवांस टेक्नोलॉजी पे कार्य करने की सुविधा मिल जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने आज आईआईटी आइएसएम में प्रधानमंत्री के कार्यक्रम की लाइव स्ट्रीमिंग करने के कारणों का खुलासा करते हुए कहा कि न सिर्फ हमारे छात्र, बल्कि देश के तमाम युवा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषणों से काफी प्रोत्साहित होते है और उन्हें देश को विकसित बनाने के क्षेत्र में कार्य करने की मोटिवेशन भी मिलता है।

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"