25 June 2024

DHANBAD:बुधवार को असैनिक शल्य चिकित्सक सह मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ आलोक विश्वकर्मा की अध्यक्षता में सिविल सर्जन कार्यालय के सभाकक्ष में H3N2 की पहचान,बचाव एवं रोकथाम को लेकर बैठक की गई।

Ad Space

बैठक के दौरान मौसमी इन्फ्लुएंजा ए वायरस (HIN1,H3N2) के संबंध में स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण विभाग, झारखंड सरकार से प्राप्त दिशानिर्देश के अनुपालन एवं इस संदर्भ में आईएलआई/एसएआरआई(ILI/SARI) केस के प्रबंधन तथा एक्टिव सर्विलेंस के संबंध में मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, धनबाद द्वारा सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी एवं सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को निहित सभी निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।

मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में देश में आईएलआई/एसएआरआई(ILI/SARI) के मरीजों की संख्या में वृद्धि देखी गई है इनमें से कुछ स्थानों में H3N2 वायरस संक्रमण की अधिकता चिंता का विषय है।

इस संबंध में H3N2 की पहचान,बचाव एवं रोकथाम से संबंधित राज्य से प्राप्त विस्तृत दिशानिर्देश सभी को प्राप्त हुए हैं। मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी ने उक्त दिशानिर्देश में निहित सभी दिशानिर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। साथ हीं अपने क्षेत्र में आईएलआई/एसएआरआई(ILI/SARI) के मरीजों की विशेष निगरानी करते हुए आई.डी.एस.पी. के IDSP-IHIP पोर्टल में इसकी प्रविष्टि सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। ताकि आईएलआई/एसएआरआई(ILI/SARI) के केसेस की अनुपातिक ट्रेंड एनालिसिस की जा सके एवं संदिग्ध SARI केस की सैंपल कलेक्ट कर जांच हेतु भेजी जा सके।

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"