4 December 2023

झारखंड राज्य के धनबाद जिले के बलियापुर की एक महिला आत्मनिर्भर की परिचय देते हुए आत्मनिर्भर बनकर पूरे परिवार का भरणपोषण कर रही है।महिला को आत्मनिर्भर बनाने के लिए धनबाद उद्यान विभाग ने भी अपनी भूमिका निभा रहे है।धनबाद उद्यान विभाग ने उक्त आत्मनिर्भर महिला की मदद किए है।आत्मनिर्भर महिला का नाम कविता महतो है। वह एक मेहनती किसान हैं तथा इनके पास 1.5 एकड़ निजी भूमि हैं। ये सब्जी की खेती कर अपना एवं अपने परिवार का भरण-पोषण करती है। इन्हें सब्जी खेती करना था। इन्होने सब्जी के बीज के लिए उद्यान विभाग, धनबाद से सम्पर्क किया और इच्छा जाहिर कि मैं अपने 50 डिसमिल जमीन पर सब्जी की खेती करती हूँ अगर मुझे सब्जी का बीज कार्यालय के द्वारा उपलब्ध हो, तो मैं अपनी निजी 1.5 एकड़ जमीन पर सब्जी की खेती करूंगी और अपनी आय में सुधार कर पाऊँगी। मुझे सामाचार पत्र के द्वारा भी पता चला एवं अन्य कृषक से मालूम हुआ कि जो किसान सब्जी की खेती करना चाहते हैं, उन्हें 50ः अनुदान पर सब्जी का बीज उद्यान विभाग के द्वारा दिया जा रहा है। तत्पश्चात मैंने उद्यान कार्यालय, धनबाद से सम्पर्क किया तथा आवेदन लेकर आई और आवेदन भरकर उद्यान कार्यालय में समर्पित किया। उद्यान कार्यालय, धनबाद के द्वारा मुझे सब्जी बीज प्राप्त हुआ और मैंने सब्जी बीज लेकर अपनी भूमि पर लगाया, जिससें मुझे आज प्रतिदिन/एक दिन छोड़कर अपनी सब्जी फसल विक्रय कर मुझे 900 से 1200 तक आमदनी हो रही है और मैं अपना एवं अपने परिवार का भरण-पोषण अच्छी तरह से कर पा रही हूँ एवं हरमाह लगभग 12000-14000रू0 आमदनी सब्जी से हो जाती हैं।

Ad Space

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"