29 May 2024

Ad Space

झारखंड राज्य के पलामू जिले के पलामू टाइगर रिजर्व के साउथ डिविजन में एक बाघ देखे जाने की पुष्टि हुई है। पीटीआर के उपनिदेशक कुमार आशीष ने मंगलवार को बताया कि जंगल में लगाए गए ट्रैप कैमरे में बाघ की तस्वीर कैद हुई है। बाघ ने एक जंगली भैंसा को अपना शिकार बनाया था। जिस स्थान पर जंगली भैंसा का शिकार किया गया था, उस स्थान के अगल-बगल कई स्थानों पर वन विभाग के द्वारा ट्रैप कैमरा लगाया गया। सोमवार देर रात जब बाघ विचरण करते हुए वहां पहुंचा तो ट्रैप कैमरे में उसकी तस्वीर कैद हुई है।दरअसल, पलामू टाइगर रिजर्व में पिछले 20 अक्टूबर से बाघ की चहलकदमी की सूचना मिल रही थी। इस दौरान बाल के बाल, मल और पगमार्ग एकत्रित किए गए थे। इसके बाद वन विभाग द्वारा लगातार बाघ की तस्वीर ट्रैप कैमरे में कैद करने का प्रयास किया जा रहा था। कुमार आशीष ने बताया कि बाघ पर लगातार निगरानी रखने का प्रयास किया जा रहा है। बाघ ने अबतक कुछ पालतु पशुओं का शिकार भी किया है।उल्लेखनीय है कि इसी वर्ष मार्च के महीने में पलामू टाइगर रिजर्व में बाघ दिखा था। करीब 10 दिनों तक पीटीआर में रहने के बाद बाघ अचानक से गायब हो गया था। संभावना व्यक्त की जा रही कि बाघ छतीसगढ़ की ओर से आया है। बाघ पर विशेष निगरानी रखी जा रही है।

आत्महत्या : फेसबुक स्टेटस अपलोड कर प्रेमी व प्रेमिका ने ट्रेन से कटकर दिया जान,परिवार वालो में मचा कोहराम…

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"