18 April 2024

समन्वय बनाकर निर्वाचन दायित्वों का करें निर्वाहनः जिला निर्वाचन पदाधिकारी!

Ad Space

सभी मतदान केंद्रों का भौतिक निरीक्षण करें सहायक निर्वाची निबंधन पदाधिकारी!

वल्नरेबल एवं क्रिटिकल मतदान केंद्रों से संबंधित प्रतिवेदन का पुनः आकलन कर अविलंब करें समर्पित!

DHANBAD:धनबाद:समाहरणालय स्थित सभागार में जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त माधवी मिश्रा की अध्यक्षता में आगामी लोकसभा चुनाव 2024 के सफल संचालन को लेकर सभी कोषांग के वरीय पदाधिकारी, नोडल पदाधिकारी, सहायक पदाधिकारी, ईआरओ, एईआरओ के साथ समीक्षा बैठक आहूत की गई।

वहीं इस बैठक के दौरान लोकसभा आम निर्वाचन 2024 के मद्देनजर गठित विभिन्न कोषांगों को उनके दायित्व के बारे में अवगत कराया गया और स्पष्ट कार्य योजना बनाने और कार्यों को सुनियोजित तरीके से निष्पादित करने से संबंधित दिशा-निर्देश दिया।

उपायुक्त ने क्रमवार सभी कोषांगों के वरीय पदाधिकारियों और प्रभारी पदाधिकारियों से उनके कोषांग की कार्य योजना की जानकारी ली।प्रशिक्षण कोषांग को मतदानकर्मियों के प्रशिक्षण को संचालित करने, कर्मियों का डाटाबेस तैयार करने, लंबित इंट्री को अविलंब पूरा करने का निर्देश दिया।

वाहन कोषांग को वाहनों की संख्या का मूल्यांकन करने, वाहनों की उपलब्धता एवं आकलन की पूर्ण जानकारी देने का निर्देश दिया।

आगामी चुनाव के व्यवस्थित संचालन को लेकर दूरस्थ क्षेत्रों से आवागमन के विभिन्न पहलुओं को कलस्टर बद्ध बांटते हुए रूट चार्ट तैयार करने का निर्देश दिया।

स्वीप कोषांग के अंतर्गत उन्होंने सभी सरकारी, गैर सरकारी संगठनों, संस्थाओं इत्यादि में वृहद स्तर पर मतदाता जागरूकता अभियान चलाने का निर्देश दिया। पोस्टल बैलेट-सुविधा केंद्र जल्द स्थापित करने, दिव्यांग मतदाताओं को सूचीबद्ध करते हुए सुविधा उपलब्ध कराने का निर्देष दिया तथा सामग्री कोषांग, ईवीएम कोषांग, प्रेक्षक कोषांग आदि को लेकर संबंधित कोषांगों के वरीय पदाधिकारियों को जरूरी दिशा–निर्देश दिया।

उपायुक्त ने जिले के सभी मतदान केन्द्रों पर मूलभूत सुविधाओं की जानकारी लेते हुए ससमय सुविधाओं का बहाल सुनिश्चित कराने की दिशा में कई महत्वपूर्ण निर्देश दिये। उन्होंने ने कहा कि सभी पोलिंग बूथ पर बिजली, पानी, शौचालय एवं पेयजल व अन्य बेसिक सुविधाएं पोलिंग पार्टी को उपलब्ध कराना है।

उन्होंने सभी बीडीओ सीओ को अपने अपने क्षेत्र के वैसे स्कूल जिनमें पोलिंग बूथ है एंव बेसिक सुविधा की अभाव है, उनका भ्रमण करते हुए सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया‌।

आसन्न चुनाव के बाबत क्रिटिकल और वर्नरेबल बूथों, इंटरमीडिएट स्ट्रांग रूम,
बूथ अवेयरनेस ग्रुप के क्रियाशील करने, स्वीप एवं चुनाव कार्यों के प्रयुक्त पुलिस फोर्स के आवासन के लिए भवनों के चिंहितिकरण आदि प्रमुख बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की गई। उपायुक्त ने क्रिटिकल और वर्नरेबल बूथों के चिन्हितीकरण कार्य पर संबंधित थाना के साथ समन्वय स्थापित करते हुए प्रतिवेदन देने का निर्देश दिया।

उपायुक्त ने बूथों के चिन्हांकन के तय मानको के आधार पर कार्य करने का निर्देश दिया। उन्होंने विगत चुनाव में हिंसा, विवाद या कम मतदान वाले बूथों को चिन्हित कर उन बूथ पर जागरूकता अभियान चलाने का भी निर्देश दिया। उन्होंने वैसे बूथों के चिन्हांकन कार्यों में सभी संबंधितों को गंभीरता पूर्वक कार्य करने की बात कही।

बैठक के दौरान उपायुक्त ने कहा कि चुनाव को सफलतापूर्वक संपन्न कराने हेतु यह बहुत जरूरी है कि चुनाव में कार्य कर रहे अधिकारियों व कर्मियों को विभिन्न चरणों में प्रशिक्षण दिया जाए। इसके लिए उपायुक्त के द्वारा वरीय पदाधिकारी प्रशिक्षण कोषांग को कार्य योजना तैयार करते हुए प्रशिक्षण संबंधित आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

मौके पर सभी कोषांग के वरीय पदाधिकारी, नोडल पदाधिकारी, सहायक पदाधिकारी, ईआरओ, एईआरओ समेत अन्य पदाधिकारीगण सहित निर्वाचन विभाग के कर्मीगण मौजूद थे।

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"