22 February 2024

NEWSTODAYJ : धनबाद कोयलांचल के बाघमारा में 2 दिसंबर को होनी वाली बाबा बागेश्वर की धार्मिक कार्यक्रम रद्द से कोयलांचल के लोगो मे मायूसी देखी जा रही है।हलाकि कुछ दिन पहले विधायक ढुल्लू महतो ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राज्य सरकार और जिला प्रशासन के खिलाफ बयानबाजी करते हुए बाबा बागेश्वर धाम सरकार की धार्मिक कार्यक्रम रद्द होने की जानकारी दी थी।आज सोमवार को पुनः श्री श्री रामराज मंदिर चिटाही धाम में प्रस्तावित बाबा बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर आचार्य धीरेन्द्र शास्त्री जी के कार्यक्रम को राज्य सरकार एवं धनबाद जिला प्रशासन द्वारा अनुमति नहीं दिये जाने पर विधायक की पत्नी सावित्री देवी ने प्रेस वार्ता आयोजित किया.उन्होंने तत्कालीन सरकार पर तंज कसा है। वार्ता में रामराज मंदिर चिटाही धाम मंदिर कमिटी एवं मंदिर के आचार्यजनों शामिल थे. प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए सावित्री देवी ने कहा कि प्रशासन ने प्रस्तावित स्थल की सुरक्षा,आकस्मिकता एवं संकीर्ण रास्ता का बहाना बनाकर अनुमति नहीं देकर लाखों सनातनियों की आस्था को ठेस पहुंचाई है।प्रशासन ने जिन तीन बिंदुओं का बहाना बनाया है।उस पर स्पष्ट कहती हूँ कि आयोजन स्थल पर आने जाने के लिए सोनरडीह मुख्य मार्ग, सिनीडीह फोरलेन, डुमरा मुख्य मार्ग, मुराईडीह हीरक मार्ग, बेहरकुदर हीरक मार्ग, नीमतल्ला मुख्य मार्ग का छह सुगम साधन है. दो महीने पहले से अनुमति को लेकर आवेदन दिया जा चूका था.यह क्षेत्र और जगहों की तुलना में काफी शांति प्रिय क्षेत्र है. इतना उपयुक्त स्थल होने के बाद भी कार्यक्रम की अनुमति नहीं देना राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन के सनातन विरोधी मानसिकता को दर्शाता है.वे सभी धर्मो का सम्मान करती है.लेकिन जिस प्रकार अभी तत्काल गोविंदपुर में तब्लीगी जमात जैसे बृहद कार्यक्रम एवं लुगू बुरु में अंतर्राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम की अनुमति दी गई. ये राज्य सरकार की तृष्टिकरण राजनितिक मानसिकता को दर्शाता है.जो सरकार राम का नहीं वह किसी काम नहीं है।

Ad Space

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"