29 May 2024

न्यूज़ टुडे झारखंड/बिहार(Jharkhand) झारखंड में भाकपा माओवादियों के खिलाफ ऑपरेशन ऑक्टोपस चलाकर उनके कब्जे से 32 सालों बाद बूढ़ापहाड़ को मुक्त कराने वाली पुलिस व सीआरपीएफ की पूरी टीम को केंद्रीय गृह मंत्री का स्पेशल ऑपरेशन मेडल दिया गया है। केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय ने मंगलवार को राष्ट्रीय गौरव दिवस के मौके पर मेडलों का ऐलान किया। राज्य पुलिस के 16 पदाधिकारी व कर्मियों के साथ-साथ सीआरपीएफ के 51 पदाधिकारियों को मेडल से सम्मानित किया गया है।

Ad Space

चाकूबाजी में घायल युवक का इलाज के क्रम मौत के बाद पुलिस ने दो लोगो को गिरफ्तार कर भेजा जेल…

एडीजी अभियान संजय आनंदराव लाठकर, आईजी अभियान व जगुआर आईजी अमोल विनुकांत होमकर, आईजी पलामू राजकुमार लकड़ा, डीआईजी रांची व तत्कालीन डीआईजी जगुआर अनूप बिरथरे, एसपी शिवानी तिवारी, लातेहार एसपी अंजनी अंजन, तत्कालीन गढ़वा एसपी अंजनी कुमार झा, सेकेंड कमांडेंट विवेकानंद सिंह, सहायक कमांडेंट कमलेश कुमार, इंस्पेक्टर सत्येंद्र कुमार सिंह, एसआई गौतम कुमार, जमील अंसारी, मनोहर राम, हवलदार राजकुमार उरांव, आरक्षी रतन कुमार यादव और विष्णु शंकर को स्पेशल ऑपरेशन मेडल मिला है।

जिले के हिस्ट्री शीटर्स का लिस्ट तैयार,अपराधियों की अब खैर नहीं- एसएसपी संजीव कुमार…

वर्तमान में मणिपुर के डीजीपी व तत्कालीन सीआरपीएफ आईजी राजीव सिंह व सीआरपीएफ मध्य जोन के एडीजी अमित कुमार को भी मेडल से सम्मानित किया गया है। दोनों पदाधिकारियों ने राज्य में सेक्टर आईजी रहने के दौरान बूढ़ापहाड़ और बुलबुल जंगल क्षेत्र को माओवादियों से मुक्त करने में योगदान दिया।

पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एक हथियार सप्लायर सहित 3 लोगों को किया गिरफ्तार,सात चक्रीय देसी रिवॉल्वर जब्त…

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"