• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Weather update: जान लीजिए आने वाले दिनों में क्या रहेगा मौसम का हाल,होंगे बारिश का आसार या गर्मी करेगा बेहाल

1 min read

 

VIEWS:1244

NEWSTODAYJ_नई दिल्ली/ गुवाहाटी/श्रीनगर : भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शनिवार को कहा कि दक्षिणी प्रायद्वीपीय भारत में बारिश कम होने की संभावना है, लेकिन पूर्वोत्तर (Some States Of North East) के कुछ राज्यों में अगले दो दिनों तक भारी से बहुत भारी बारिश जारी रहेगी. आईएमडी ने अगले पांच दिनों के दौरान अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh), असम (Assam), मेघालय (Meghalay), नागालैंड (Nagaland), मणिपुर (Manipur), मिजोरम (Mizoram) और त्रिपुरा

 

(Tripura) में गरज के साथ बारिश या बिजली गिरने की भविष्यवाणी की है. आईएमडी ने कहा कि अगले पांच दिनों के दौरान दक्षिणी राज्यों में गरज के साथ बारिश या बिजली गिरने की भी ‘बहुत संभावना’ है. इसके अलावा, एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ 18 अप्रैल की रात से उत्तर पश्चिम भारत को प्रभावित करने की संभावना है. आईएमडी ने कहा कि इसके प्रभाव में पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में 19 और 20 अप्रैल को गरज के साथ बारिश या बिजली गिरने की संभावना है और पंजाब में 20 अप्रैल को.

 

दिल्ली में और चढ़ेगा पारा : पश्चिमी विक्षोभ का असर खत्म होते ही एक बार पारा फिर चढ़ने लगा है. शनिवार को गर्मी ने एक बार फिर जोर दिखाया. मौसम विभाग ने तापमान फिर से बढ़ने की संभावना जताई है. कल से शुरू होने वाले सप्ताह की शुरुआत में विभाग ने लू की गंभीर स्थिति बनने की भविष्यवाणी की है. स्काईमेट वेदर डॉट कॉम के मुताबिक अगले 24 घंटों के दौरान पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में लू चलने की संभावना है.

 

 

जम्मू-कश्मीर, लद्दाख में अगले 24 घंटों तक शुष्क रहेगा मौसम : जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में शनिवार को अगले 24 घंटों के दौरान मौसम शुष्क रहेगा. ये जानकारी मौसम विभाग ने दी. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि अगले 24 घंटों के दौरान जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में मौसम शुष्क रहने की संभावना है. न्यूनतम तापमान श्रीनगर में 8.9, पहलगाम में 2.6 और गुलमर्ग में 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. लद्दाख के द्रास में रात का न्यूनतम तापमान 0.5, लेह में 2.6 और कारगिल में 4.6 दर्ज किया गया. जम्मू में न्यूनतम तापमान 20.8, कटरा में 18.6, बटोटे में 11.3, बनिहाल में 8.4 और भद्रवाह में 8.0 दर्ज किया गया.

 

यह भी पढ़े…Weather Update:चिलचिलाती गर्मी से 12 अप्रैल तक नहीं मिलेगा राहत, 13 अप्रैल के बाद बारिश की संभावना

 

पूर्वोत्तर भारत और दक्षिण भारत के कुछ क्षेत्रों में हुई भारी बारिश : स्काईमेट वेदर डॉट कॉम के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान, पूर्वोत्तर भारत और दक्षिण भारत के कुछ क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ जगहों पर भारी से बहुत भारी बारिश हुई. दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, आंतरिक तमिलनाडु केरल और लक्षद्वीप में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हुई. जम्मू कश्मीर, गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में छिटपुट हल्की बारिश हुई. ओडिशा, तेलंगाना, मध्य महाराष्ट्र और कर्नाटक के बाकी हिस्सों के अलग-अलग हिस्सों में गरज के साथ छींटे देखे गए. उत्तर भारत के मैदानी इलाकों के कुछ हिस्सों में लू का प्रकोप देखा गया.

 

 

असम : आसमानी बिजली गिरने से 8 की मौत : असम के कई जिलों में गुरुवार से भारी बारिश के साथ आसमानी बिजली गिरने और तेज आंधी की चपेट में आने से तीन किशोरों समेत कम से कम 8 लोगों की मौत हो गई. अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी. असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) के अधिकारियों ने कहा कि पिछले 48 घंटों के दौरान 12 जिलों में तूफान, बारिश और बिजली गिरने से 592 गांवों के करीब 20,300 लोग प्रभावित हुए हैं.

 

 

डिब्रूगढ़ जिले में चार, बारपेटा में तीन और गोलपारा जिले में एक की मौत हुई. तूफान में कई पेड़, कई बिजली के खंभे उखड़ गए. डिब्रूगढ़, बारपेटा, कामरूप (मेट्रो), कामरूप (ग्रामीण), नलबाड़ी, चिरांग, दरांग, कछार, गोलाघाट, कार्बी आंगलोंग, उदलगुरी और गोलपाड़ा जिले में 7,400 घर क्षतिग्रस्त हो गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें