NEWSTODAYJ_कश्मीर घाटी में 24 घंटे के भीतर नौ आतंकियों का सुरक्षा बलों ने सफाया कर दिया। दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम, अनंतनाग व श्रीनगर में बुधवार व वीरवार को हुई तीन अलग-अलग मुठभेड़ में जेवन (श्रीनगर का बाहरी इलाका) में पुलिस बस पर हमला करने वाले जैश के तीन आतंकियों समेत नौ दहशतगर्द मारे गए। मारे गए आतंकियों से दो एम 4, चार एके राइफल समेत अन्य हथियार बरामद किए गए हैं।

 

श्रीनगर जिले के बाहरी इलाके पंथा चौक में वीरवार की आधी रात बाद शुरू हुई मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए। फिलहाल मारे गए आतंकियों की शिनाख्त नहीं हो पाई है। आतंकियों की ओर से की गई फायरिंग में चार जवान घायल हो गए। इनमें तीन पुलिसकर्मी व एक सीआरपीएफ जवान हैं। पुलिस ने बताया कि गोमांदर मोहल्ला में कुछ संदिग्धों की मौजूदगी की सूचना पर सुरक्षा बलों की टीम मौके पर गई थी। जिस दौरान टीम संदिग्ध मकान में दाखिल होने की कोशिश कर रही थी कि अंदर से अचानक भारी फायरिंग हुई। शुरूआती फायरिंग में चार जवान घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में दाखिल कराया गया है। इस बीच सुरक्षा बलों को तीन दहशतगर्दों को मार गिराने में सफलता मिली। देर रात तक इलाके में तलाशी अभियान जारी रहा।

दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग के नौगाम में सुरक्षा बलों ने दो और आतंकियों को मार गिराया है। मुठभेड़ में सेना का एक जवान भी शहीद हो गया। मारे गए आतंकी 13 दिसंबर को जेवन में पुलिस बस पर हमले में शामिल थे। इससे पहले बुधवार रात को नौगाम में एक और कुलगाम में जैश के पाकिस्तानी सरगना समेत तीन आतंकी मारे गए थे। ऐसे में सुरक्षा बलों ने एक ही रात दो मुठभेड़ों में छह आतंकियों का सफाया कर दिया।

 

सेना की 15वीं कोर के जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे ने वीरवार को बताया कि सुरक्षा बलों को आतंकवादियों पुख्ता जानकारी मिली थी। इसके बाद बुधवार शाम को अनंतनाग के नौगाम शाहाबाद और कुलगाम के मीरहामा इलाके में तलाशी अभियान के दौरान मुठभेड़ हुई। इनमें जैश के दो पाकिस्तानी आतंकियों समेत छह दहशतगर्दों को ढेर कर दिया गया। बीते पांच दिनों में सुरक्षा बलों ने घाटी में 11 खूंखार आतंकियों को मार गिराया है।

यह भी पढ़े…Terrorist encounter: सुरक्षाबलों ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े आतंकियों को किया ढेर, 89 आतंकियों का हो चुका एनकाउंटर

आईजी विजय कुमार ने कहा कि 13 दिसंबर को श्रीनगर के जेवन में पुलिस बस पर आतंकियों ने फायरिंग की थी, जिसमें तीन पुलिस कर्मी शहीद हो गए थे। उस हमले में जैश आतंकियों का यह गुट भी शामिल था। अनंतनाग में बीती रात मारे गए आतंकवादियों में सुहैल अहमद राथर (जाफरान कॉलोनी), पीर अल्ताफ हुसैन (नाथीपोरा) और सुल्तान उर्फ रईस (पाकिस्तान) के रूप में की है। रईस 2017 से दक्षिण कश्मीर में सक्रिय था। उसका उद्देश्य सुरक्षा बलों को भारी नुकसान पहुंचाना था। मुफ्ती एक पुलिस वाले के परिवार पर हुए हमले में भी शामिल था। उधर, कुलगाम में मारे गए आतंकियों में जैश के मो. शफी डार (कुलगाम), उजैर अहमद (मिहराम) व पाकिस्तानी कमांडर साजिद उर्फ शहजाद शामिल हैं। दोनों स्थानीय आतंकी सी ग्रेड के हैं, जबकि पाकिस्तानी आतंकी मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *