• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Terrestrial inspection : डीडीसी और एसडीओ ने निर्माणाधीन पुलिस लाइन के लिए अधिग्रहित गोचर भूमि विवाद का स्थलीय निरीक्षण किया…

1 min read

Terrestrial inspection : डीडीसी और एसडीओ ने निर्माणाधीन पुलिस लाइन के लिए अधिग्रहित गोचर भूमि विवाद का स्थलीय निरीक्षण किया…

NEWSTODAYJ : जामताड़ा उपविकास आयुक्त नमन प्रियेश लकड़ा व एसडीएम संजय कुमार पांडेय ने सोनाथर मौजा में निर्माणाधीन पुलिस लाइन के लिए अधिग्रहित गोचर भूमि विवाद का स्थलीय निरीक्षण किया। और ग्रामीणों को मामले के निस्तारण का भरोसा दिलाया। ग्रामीणों का आरोप है कि ग्राम सभा की कार्रवायी किए बगैर ही सोनाथर मौजा में मौजूद 05 एकड़ 16 डिसमिल जमीन में से 04 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया गया है।

यह भी पढ़े…Bhiwandi accident : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भिवंडी हादसे पर ट्वीट कर जताया दु:ख…

इससे पूर्व ग्रामीणों की सहमति के बिना ही सारी प्रक्रिया को पूरा कर लिया गया है। जिसका ग्रामीण विरोध कर रहे है। हालांकि पुलिस लाइन का निर्माण साल 2018 में आरंभ हुआ है। मौके पर उपविकास आयुक्त ने कहा कि पुलिस लाइन के लिए सोनाथर मौजा में 25 एकड़ भूमि का अधिग्रहण किया गया है। जिसमें 21 एकड़ जमीन पुरातन पतित है और 04 एकड़ जमीन गोचर है। लेकिन अभिलेख के अनुसार गोचर भूमि के अधिग्रहण से पूर्व 16 आना रैयतों को नोटिश तामिला किया गया था।

यह भी पढ़े…Press conference : दलित विरोधी झारखंड सरकार , दोषियों का कर रही संरक्षण : अमर बाउरी…

इसके बाद ग्राम सभा की कार्रवायी पूर्ण कर गोचर भूमि के बदले में सोनाथर मौजा में ही 04 एकड़ की भूमि को चिन्हित कर गोचर के रूप में अधिसूचित भी किया गया है। कहा कि गांव के आवागमन के लिए 50 फीट का रास्ता भी उपलब्ध करवाया गया है। साथ ही एक एकड़ 16 डिसमिल जमीन ग्रामीणों के उपयोग के लिए उपलब्ध के लिए छोड़ दिया गया है। कहा कि ग्रामीणों के द्वारा विरोध की जांच की जा रही है। उपायुक्त ने कहा कि सारे दस्तावेज की जांच के बाद ही गोचर भूमि पर ग्रामीणों के विरोध का निस्तारण हो सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें