• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Technology:व्हाट्सएप ने 14 लाख हानिकारक अकाउंट्स पर लगाया प्रतिबंध,क्या थी वजह

1 min read

NEWSTODAYJ_नई दिल्ली: व्हाट्सएप ने शुक्रवार को कहा कि कंपनी ने नए आईटी नियमों, 2021 के अनुपालन में फरवरी महीने में भारत में 1,426,000 हानिकारक अकाउंट्स पर प्रतिबंध लगाया है. इससे पहले जनवरी में व्हाट्सएप ने 1,858,000 अकाउंट्स पर प्रतिबंध लगाया था. कंपनी ने कहा कि उसे देश से एक ही महीने में 335 शिकायतें मिलीं और उनमें से 21 पर जनवरी में कार्रवाई की गई.

 

 

 

व्हाट्सएप के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा, ‘आईटी नियम 2021 के अनुसार, हमने फरवरी 2022 महीने के लिए अपनी नौवीं मासिक रिपोर्ट प्रकाशित की है.’ इस दौरान प्रवक्ता ने कहा कि, ‘जैसा कि नवीनतम मासिक रिपोर्ट में दर्ज किया गया है, व्हाट्सएप ने फरवरी के महीने में 14 लाख से अधिक खातों पर प्रतिबंध लगा दिया है.’

 

 

कंपनी ने कहा कि साझा किए गए डेटा में व्हाट्सएप द्वारा 1 फरवरी से 28 फरवरी के बीच दुरुपयोग का पता लगाने के फीचर का उपयोग करके प्रतिबंधित भारतीय खातों की संख्या पर प्रकाश डाला गया है, जिसमें इसके रिपोर्ट फीचर के माध्यम से यूजर्स से प्राप्त नकारात्मक प्रतिक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए की गई कार्रवाई भी शामिल है.

 

यह भी पढ़े…Technology:अगर आप भी गूगल यूज करते हैं तो हो जाइए सावधान, सरकार ने जारी किया आदेश

 

 

 

प्रवक्ता ने यह भी कहा कि, ‘व्हाट्सएप एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड मैसेजिंग सेवाओं के बीच दुरुपयोग को रोकने में एक इंडस्ट्री लीडर है. वर्षों से, हमने अपने प्लेटफॉर्म पर अपने यूजर्स को सुरक्षित रखने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और अन्य अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी सहित डेटा वैज्ञानिकों, विशेषज्ञों और प्रक्रियाओं में भी लगातार निवेश किया है.’ बता दें कि नए आईटी नियम 2021 के तहत, 50 लाख से अधिक यूजर्स वाले बड़े डिजिटल और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को मासिक अनुपालन रिपोर्ट प्रकाशित करनी होती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.