Surat road accident : अनियंत्रित डम्पर की चपेट में आने से फुटपाथ पर सो रहे 13 लोगों की मौत, कई घायल…

1 min read

Surat road accident : अनियंत्रित डम्पर की चपेट में आने से फुटपाथ पर सो रहे 13 लोगों की मौत, कई घायल…

NEWSTODAYJ (एजेंसी) सूरत में किम-मांडवी स्टेट हाईवे पर सड़क किनारे सो रहे मजदूरों पर डम्पर पलटने से कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई। जबकि कुछ घायलों को इलाज के लिए स्थानांतरित कर दिया गया। घायलों में से भी कई की हालत काफी गंभीर है। जानकारी के मुताबिक सभी मजदूर राजस्थान के थे।डम्पर पलटने से सड़क किनारे सो रहे मजदूरों में से 12 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचने वालों में भी मरने वालों की संख्या बढ़ने की आशंका है।

यह भी पढ़े…Truck accident : सड़क दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिवार को पीएम रिलीफ फंड से 2-2 लाख रुपये के मुआवज़े का ऐलान…

8 घायलों को गंभीर हालत में शमीयर अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान एक की मौत हो गई और मरने वालों की संख्या बढ़कर 13 हो गई। मरने वालों मे राकेश रूपचंद, शोभना राकेश, दिलीप ठाकरा, नरेश बालू, विकेश महिदा, राजिला महिदा, मुकेश महिदा, लीला मुकेश, मनीषा, चंपा बालू, एक दो साल की लड़की और एक साल का लड़का।वरिष्ठ अधिकारियों सहित पुलिस काफिला मौके पर पहुंचा। पुलिस ने डम्पर चालक और क्लीनर को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि डम्पर चालक नशे की हालत में पाया गया।बांसवाड़ा के कुशलगढ़ के मूल निवासी मजदूरों के पांच-छह परिवार पिछले पांच वर्षों से पलोड़ के पास रह रहे हैं। सोमवार देर रात लगभग 12 बजे के बाद, किम से मांडवी की ओर जा रहे एक डम्पर के चालक ने गन्ने से लदे ट्रैक्टर को किम चार रास्ता की ओर ले जा रहा था। ट्रैक्टर से टकराने के बाद, डम्पर चालक ने स्टीयरिंग व्हील पर नियंत्रण खो दिया और 20 सोते हुए मजदूरों को कुचल दिया। डम्पर सड़क के किनारे फुटपाथ पर चढ़ गया था। इस हादसे में 12 लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी। पुलिसकर्मियों ने इन शवों को अस्पताल पहुंचवाया।घटना में छह महीने की बच्ची के माता-पिता सो रहे थे, जब डम्पर ने फुटपाथ पर सो रहे मजदूरों के साथ लड़की के माता-पिता को कुचल दिया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

यह भी पढ़े…Common man in cinema award : अभिनेता यशपाल शर्मा को R I F फेस्टिवल 2021 में ओम पुरी मेमोरियल “कॉमन मैन इन सिनेमा अवार्ड” से सम्मानित किया जाएगा…

लाशों के ढेर के बीच लड़की की चीख-पुकार सुनकर पुलिस वाले भी भावुक हो गए।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जताया दुख.प्रधानमंत्री ने जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों को सांत्वना दी और घायल लोगों के जल्द ठीक होने की कामना की। उन्होंने ट्वीट करके कहा कि सूरत ट्रक हादसे में लोगों की जान जाना दुखद है। जान गंवाने वालों के परिवारों के साथ मेरी संवेदनाए हैं। हादसे में घायल लोग शीघ्र स्वस्थ हों, यही प्रार्थना है।सूरत हादसे के मृतकों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2-2 लाख रुपये देने की घोषणा की गई है। प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक हादसे मारे गए लोगों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये दिए जाएंगे और घायलों को 50-50 हजार रुपये दिए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.