5 March 2024

NEWSTODAYJ : धनबाद जिले के पूर्व सांसद ददई दुबे ने गुरुवार 30 नवंबर को सत्याग्रह आंदोलन मंच के माध्यम से व्यापारी वर्ग के पक्ष में गुंडागर्दी के खिलाफ हल्ला बोला है।उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग के लोग गुंडागर्दी से परेशन है।अपराधी लगतार धनबाद पुलिस को चुनोतियाँ दे रहा है।बाउजूद धनबाद से अपराध मुक्त होने का नाम नही ले रहा है।उन्होंने यह भी कहा कि धनबाद में ध्वस्त हो चुकी विधि व्यवस्था के लिए यहां के डीसी वरुण सिन्हा, एसएसपी संजीव कुमार व वर्तमान हेमंत सरकार इसके लिए जिम्मेवार है पूर्व में धनबाद का सांसद में भी रह चुका हूं और पांच साल के कार्यकाल के दौरान धनबाद में एक भी आपराधिक घटनाएं नही हुई।मेरे चुनाव हारने के साथ ही धनबाद में आपराधिक घटनाएं बढ़ने लगी।मेरे जाने के बाद ही बिहारी लाल चौधरी हत्याकांड हुई।यह धनबाद की जनता भी जानती है। आज धनबाद के व्यापारी दहशत में हैं. उनसे लगातार रंगदारी मांगी जा रही है. व्यापारियों को धमकिया मिल रही है. व्यापारियों पर गोली चल रही है और इसके विरोध में अनिश्चितकालीन सत्याग्रह पर बैठे समाजसेवी कृष्णा अग्रवाल का समर्थन करता हूं और इसके बाद भी धनबाद जिला अपराध मुक्त नही होता है तो अब सड़क पर उतरकर आंदोलन किया जाएगा.बताते चले कि समाजसेवी कृष्णा अग्रवाल ने धनबाद में ध्वस्त विधि व्यवस्था व व्यवसायियों पर हमला एवं रंगदारी मांगे जाने के विरोध में अनिश्चितकालीन सत्याग्रह गांधी सेवा सदन में महात्मा गांधी के प्रतिमा के समक्ष आज से शुरू कर दिया है.उनके इस सत्याग्रह आंदोलन को आप पार्टी, भारतीय जनतंत्र मोर्चा,धनबाद जिला चैम्बर,मारवाड़ी सम्मेलन, मारवाड़ी यूथ ब्रिगेड, झारखण्ड पेट्रोलियम डीलर एसोसिएशन सहित कई संगठनों ने समर्थन दिया है।

Ad Space

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"