• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Saraswati Puja 2021 : माँ की प्रतिमा को अंतिम रूप देने जुटे मूर्तिकार…

1 min read

Saraswati Puja 2021 : माँ की प्रतिमा को अंतिम रूप देने जुटे मूर्तिकार…

NEWSTODAYJ : धनबाद।ऋतुओं में उत्तम बसंत पंचमी में होने वाली माँ सरस्वती के पूजा को लेकर मूर्तिकार माँ के प्रतिमाओं पर अंतिम रूप देने में लगे है। गहनों के साथ कपड़ो से मूर्तियों को सजा रहे है।मूर्तिकार ने कहा कोरोना को लेकर दुर्गा पूजा, काली पूजा का बाजार नहीं हो पाया इस करोना काल में मूर्ति बनाकर बेचना एक बहुत बड़ी चुनौती है।लागत के 25 प्रतिशत भी आ जाये तो ठीक है।कोरोना को लेकर स्कूल कॉलेजों में पूजा नही हो रही है। गाँव मुहल्लों में भी पहले की तरह पूजा नही हो पा रही।

यहाँ देखे वीडियो।

यह भी पढ़े…Severe road accident : ट्रक पलटने से 16 मजदूरों की मौत, 5 गंभीर रूप से घायल…

जिसको लेकर मूर्तिया कम बनायी गयी है।हालांकि इस बार मूर्ति में खास करके कोरोनावायरस का दृश्य दर्शाया गया है। माँ सरस्वती को राक्षस रूपी कोरोना का माँ वध कर रही है ऐसे ऐसे दृश्य दर्शाया गया है। इस बार मूर्ति में बहुत ही बारीकी से कार्य किया गया है। फिर भी इसकी कीमत खर्च के हिसाब से बहुत ही कम रखा गया है।छः सौ रुपये के मूर्ति को चार सौ व आठ हाजर के मूर्ति को तीन हज़ार में बेचनी पड़ रही है। चुकी कोरोना को लेकर कही बनी हुई मूर्ति बच न जाये इस भय से भी मुनाफा कम और लागत के हिसाब से बिक्री हो जाये।ऐसी सोच से इस बार मूर्ति की बिक्री करने में जुटे हुए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.