23 July 2024

न्यूज़ टुडे झारखंड / दिल्ली : विपक्ष दलों के इंडिया गठबंधन की आज बड़ी वर्चुअल बैठक हुई। इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को गठबंधन का भी अध्यक्ष बनाया गया। बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को गठबंधन के संयोजक का पद ऑफर हुआ जिसे उन्होंने ठुकरा दिया।संयोजक पद के प्रस्ताव पर नीतीश कुमार ने कहा कि मुझे किसी पद की लालसा नहीं है। नीतीश के इनकार करने के बाद उनकी पार्टी ने गेंद कांग्रेस के पाले में फेंक दी। जदयू लीडर संजय झा ने कहा कि संजोयक का पद तो कांग्रेस को अपने पास रखना चाहिए। इंडिया की आज इस बैठक में सीट शेयरिंग में आ रही चुनौतियों पर भी चर्चा की गई। हालांकि, इसे लेकर कोई सहमति बनी है या नहीं, यह जानकारी अभी तक सामने नहीं आई है। बता दें कि बैठक में आरजेडी के मुखिया लालू यादव और उनके बेटे तेजस्वी यादव, एनसीपी चीफ शरद पवार, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित कई और नेता भी शामिल हुए। मगर, इस मीटिंग से टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी, उद्धव ठाकरे और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव नदारद रहे।संयोजक के पद को लेकर पहले से लग रहे थे कयास पहले यह बताया जा रहा था कि जदयू नीतीश कुमार को संयोजक के पद पर देखना चाहता है, जिसका तृणमूल कांग्रेस विरोध कर रही है। मालूम हो कि डिजिटल बैठक आयोजित करने का इस तरह का यह दूसरा प्रयास रहा, क्योंकि कुछ दिन पहले किया गया प्रयास सफल नहीं हो पाया था। तृणमूल कांग्रेस के सूत्र ने कहा कि पार्टी को शुक्रवार शाम को बैठक के बारे में सूचित किया गया था, चूंकि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री कुछ पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों में व्यस्त हैं, इसलिए वह इसमें शामिल नहीं हो सकेंगी। इससे पहले ममता बनर्जी ने खरगे के नाम का प्रस्ताव प्रधानमंत्री पद के लिए रखा था। आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उनके प्रस्ताव का समर्थन किया था।

Ad Space

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"