Khwaja Moinuddin Chishti : ख्वाजा की दरगाह पर उमड़ा जायरीन का सैलाब,मखमली चादर और गुलदस्ता चढ़ाने में आई तेजी…

1 min read

Khwaja Moinuddin Chishti : ख्वाजा की दरगाह पर उमड़ा जायरीन का सैलाब,मखमली चादर और गुलदस्ता चढ़ाने में आई तेजी…

NEWSTODAYJ अजमेर : सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के ८०९वें उर्स में शिरकत करने के लिए जायरीन की आवक हर रोज बढ़ रही है।अकीदतमंद चादर और फूल लेकर दिन-रात दरगाह में हाजिरी देने पहुंच रहे हैं। इससे दरगाह क्षेत्र में उर्स की रौनक बनी हुई है। वहीं नेताआें की ओर से भी चादरें भेजे जाने का सिलसिला तेज हो गया है।उधर, कायड़ विश्राम स्थली में भी बसों की संख्या में बढ़ोतरी हुई। यहां शाम तक ५२ बसें पहुंच चुकी थीं। दरगाह परिसर में भी देर रात तक अकीदतमंद कव्वालियों पर झूमते रहे।

यह भी पढ़े…Sarkari Naukri : बिहार-झारखंड के युवा , भारतीय सेना की भर्ती रैली…

दरगाह में उर्स की चौथी महफिल हुई। मजार शरीफ पर गुस्ल की रस्म अदा की गई।प्रधानमंत्री की चादर से अन्य को मिली सहुलियत।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की चादर को इस बार खोल कर नहीं ले जाया गया, लेकिन चादर के दरगाह में जाने से अन्य लोगों के लिए रास्ता जरूर खुल गया। कोविड नियमों को देखते अब तक खादिम व नेता सार्वजनिक रूप से चादर चढ़ाने से बचते रहे हैं।यह बात अलग है कि उर्स के दौरान आम जायरीन को चादर लेकर जाते देखा गया है। हालांकि इनकी संख्या भी कम रही, लेकिन पीएम मोदी की चादर चढऩे के बाद यह तय हो गया कि दरगाह में चादर लेकर जाने पर अब कोई रोक नहीं है।जिला प्रशासन ने नहीं चढ़ाई चादर।दरअसल, दरगाह में चादर पेश किए जाने को लेकर कोई स्पष्ट दिशा-निर्देश नहीं होने से जिला प्रशासन चादर की इजाजत देने से बचता रहा है। यहां तक कि प्रशासन ने स्वयं भी इस बार उर्स के शुरुआत में चादर नहीं चढ़ाई।प्रधानमंत्री की चादर मंगलवार को यहां आए केंद्रीय मंत्री नकवी ने दरगाह के निजाम गेट पर चादर को सिर पर रखा। बाद में खादिम को चादर सौंप दी गई। उधर, पाकिस्तान के डिप्टी हाईकमिश्नर भी चादर खुद लेकर नहीं गए।

यह भी पढ़े…Follow the rules : कोविड-19 के नियमों का पालन करें या फिर से लॉकडाउन के लिए तैयार रहें..

बाद में उन्हें बताया गया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की भी चादर चढ़ी है तो उन्होंने खादिम के हुजरे में चादर के सिर्फ हाथ लगाया।केन्द्रीय मंत्री नकवी पहुंचे।प्रधानमंत्री की चादर लेकर केंद्रीय मंत्री अब्बास नकवी पहुंचे। उनके साथ दरगाह कमेटी सदर अमीन पठान, नायब सदर सैयद बाबर अशरफ सहित दरगाह कमेटी के तमाम सदस्य, नाजि़म अश्फाक़ हुसैन, अंजुमन सदर सैयद मोईन हुसैन, सचिव सैयद वाहीद हुसैन अंगारा, अंजुमन यादगार के अध्यक्ष सदाकत अली चिश्ती, सचिव एहेतशाम चिश्ती, खादिम सैयद अब्दुल बारी चिश्ती, सैयद अफ़शान चिश्ती, दरगाह दीवान के पुत्र सैयद नसीरूद्दीन चिश्ती आदि रहे।टॉयलेट ब्लॉक का उद्घाटन।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की चादर लेकर आए केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने दरगाह के पास सोलहखम्बा में बने टॉयलेट ब्लॉक का उद्घाटन किया।

यह भी पढ़े…Stripping of rules : विवाह समारोह में 50 लोगों की अनुमति के बाउजूद , फिर भी जुट रहे लोग…

इस दौरान उन्होंने दरगाह के पांच नम्बर गेट का भी अवलोकन किया, जिसे हाल ही चौड़ा किया गया है। गरीब नवाज गेस्ट हाउस नकवी ने ११ कमरों का लोकार्पण भी किया।इस मौके पर नकवी ने कहा कि मैं जब भी आता था तो यह बात जरूर पूछता था कि दरगाह में आने वाले जायरीन के लिए टॉयलेट की क्या व्यवस्था है। इस पर यहां से कुछ समस्याएं बताई गई, लेकिन दरगाह कमेटी, अंजुमन और दरगाह दीवान आदि ने संयुक्त प्रयास किए और समस्याओं को हल करवाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.