20 July 2024

जिला संवाददाता- बबलू कुमार

Ad Space

बोकारो:- शनिवार को महिला पॉलिटेक्निक कॉलेज बालीडीह में मादक पदार्थ एवं तम्बाकू के दुष्प्रभाव विषय पर एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन प्रधानाचार्य डा0 रमेश कुमार की अध्यक्षता में आयोजित लिया गया। स्वास्थ्य विभाग से डा0 बी0पी0 गुप्ता व सोशल वर्कर छोटेलाल द्वारा सभी बच्चियों को तम्बाकू के दुष्परिणाम, तम्बाकू खाने से होने वाली बीमारी से अवगत कराया गया साथ ही तम्बाकू छोडने के उपाय, परामर्शी सेवा लेने की सुविधा, टाल फ्री नम्बर 1800-11-2356 के बारे में जानकारी दी गई।

भारत के अन्दर लगभग 27 करोड 50 लाख लोग तम्बाकू का प्रयोग किसी न किसी रूप में लेते है-

डा0 बी0 पी0 गुप्ता द्वारा सभी बच्चों को बताया गया कि तम्बाकू किसी भी रूप में लिया जाये तो कैंसर होता है जैसे बीडी, सिगरेट, पान, जर्दा, खैनी, मावा, मिश्री, गुल, नसवार या चबाने वाला तम्बाकू जो लोग इस्तेमाल करते है। इससे इतना भयानक कैंसर होता है और इससे इतना बर्बादी होती है कि हम लोग अन्दाजा नही लगा सकते। भारत के अन्दर लगभग 27 करोड 50 लाख लोग तम्बाकू का प्रयोग किसी न किसी रूप में लेते है। तम्बाकू मनुष्य के शरीर में 4000 से अधिक बीमारियां पैदा कर सकता है जोकि आगे चल कर मौत का कारण बनता है।

जो भी तम्बाकू छोडना चाहते है वह एक बार तम्बाकू नशा मुक्ति केन्द्र का भ्रमण अवश्य करें-

छोटेलाल दास सोशल वर्कर तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम बोकारो ने बताया कि बोकारो जिला में दो तम्बाकू नशा मुक्ति केन्द्र का संचालन किया जा रहा है जहां पर फेफडे की जांच, ब्लड के अन्दर कार्बन की जांच व तम्बाकू छोडने में मदद के लिये निकोटीन गम (च्विंगम) की उपलब्धता कराई जाती है। साथ ही साथ यह सेवा सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर भी एन0सी0डी0 क्लीनिक में उपलब्ध हैं तो मेरा सभी लोगों से अनुरोध है कि जो भी तम्बाकू छोडना चाहते है वह एक बार तम्बाकू नशा मुक्ति केन्द्र का भ्रमण अवश्य करें।
कार्यक्रम में महिला पालीटेकनिक कालेज के प्रधानाचार्य डा0 रमेश कुमार, स्वास्थ्य विभाग से डा0 बी0पी0गुप्ता, सोशल वर्कर छोटेलाल दास, विद्यालय के प्रोफेसर, स्टाफ व बच्चे उपस्थित थे।

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"