Jharkhand News : नगर निकाय चुनाव नहीं कराना चाहती सरकार, दबाव बनाने के लिए देंगे धरना- मरांडी…

Jharkhand News : नगर निकाय चुनाव नहीं कराना चाहती सरकार, दबाव बनाने के लिए देंगे धरना- मरांडी…

NEWSTODAYJ : रांची।झारखंड में बीजेपी विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा कि 16 दिसम्बर को राज्य के सभी प्रखंड मुख्यालय में पार्टी एक दिवसीय धरना देगी।राज्य में जो स्थानीय निकाय है, पहले ही कई निकाय का कार्यकाल पूरे हो चुके हैं।6 निकाय नए बने थे उस पर भी चुनाव होना था।कोरोना के कारण टल रहा था।कुल 14 निकाय में चुनाव नहीं हुआ।उन्होंने कहा कि अब पंचायत का कार्यकाल दिसम्बर में समाप्त हो रहा है और राज्य सरकार चुनाव कराने की तरफ दिख नहीं रही है।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : 50 घंटे से लापता कर्मियों की तलाश में आज फिर खुदिया खदान में उतरेंगे गोताखोर…

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

राज्य सरकार चाहती नहीं शक्ति का विकेंद्रीकारण हो सबकुछ अपने हाथ मे चाहते हैं।बिल्कुल कोई तैयारी चुनाव की दिख नहीं रही है।सरकार का ध्यान नहीं है।पूरे तंत्र को अपने कब्जे में रख कर सरकारी कर्मचारी और पदाधिकारी से सरकार काम करवाना चाहती है।बाबूलाल मरांडी ने कहा कि बीजेपी की मांग है कि बिना बिलम्ब के स्थानीय निकाय का चुनाव सरकार करवाए।देश के कई हिस्सों में चुनाव हुए हैं।दुनिया मे भी चुनाव हुए।अगर चुनाव नहीं होगा तो ग्रामीण क्षेत्र में जो थोड़ा बहुत काम दिख रहा वो प्रभावित होगा। राज्य केंद्र के सहयोग से छूट जाएगा।पहले से पलायन हो रहा है, जो बचे हुए गांव के लोग हैं, काम बंद होने पर वे भी बाहर चले जाएंगे।सरकार चुनाव की दिशा में आगे बढ़े।बीजेपी विधायक दल के नेता ने कहा कि धान के क्रय की जहां तक सवाल है, खेत से धान खलिहान में पहुंच चुका है, पर राज्य में कहीं खरीद की व्यवस्था नहीं है। बिचौलिए के हाथ किसान धान बेचने को मजबूर हैं।ये कहते हैं देश के किसान के साथ हैं पर राज्य के किसान के साथ नहीं हैं।धान के नमी के नाम पर 100 किलो में 15 किलो काट कर ही किसान को भुगतान होता है।खरीदते समय ही माईनस होता है, लेकिन इनको खरीदारी नहीं करनी है।छोटे-छोटे किसान हैं बड़े किसान नहीं जो फरवरी तक इंतजार करें।सरकार को किसानों की कोई चिंता नहीं है।जगह-जगह से किसान बता रहे हैं।कहीं धान की खरीदारी नहीं हो रही, सरकार बिना विलम्ब किये तुरंत धान खरीद की व्यवस्था करे, क्योंकि सवाल किसान का है।झारखंड में 24 जिले हैं जिसमें 25 बालू घाट की नीलामी हुई, बाकी नीलामी नहीं हुई है।निर्माण कार्य प्रभावित हो रहा है।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : झामुमो का अनिश्चितकालीन धरना , वाहनों का ट्रांसपोर्टिंग ठप कर दिया गया…

बालू के नाम पर पूरे प्रदेश में भयादोहन हो रहा है. यहां से बालू बाहर जा रहा और इस लूट में पूरे राज्य में कांग्रेस और जेएमएम के लोग लगे हैं।राज्य के सीएम कहते खजाने में पैसा नहीं है तो कैसे पैसा आएगा।नीलामी करती तो राशि आती. जब तक नीलामी नहीं होती या वैकल्पिक व्यवस्था होने तक प्रदेश में स्थानीय निर्माण के लिए स्वीकृति मिले, कोई रोक-टोक न हो. बॉर्डर पर चेकिंग हो, ताकि राज्य से बाहर बालू न जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here