Jharkhand News : पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने CM सोरेन पर जमकर निशाना साधा…

1 min read

Jharkhand News : पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने CM सोरेन पर जमकर निशाना साधा…

NEWSTODAYJ देवघर : झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने आज देवघर परिसदन में हेमंत सरकार के खिलाफ जमकर बयान दिए बाबूलाल मरांडी ने कहा कि हेमंत सरकार के कार्यकाल के 1 वर्ष पूरे होने वाले हैं। अगर 1 वर्ष के कार्यकाल को विकास की नजर से देखें तो झारखंड फिसड्डी साबित हुआ है सरकार को रोना का बहाना बनाकर अपनी कमियां छुपा रही है इसके अलावा उन्होंने कहा है। कि पूर्व के रघुवर सरकार के समय नक्सलवाद और अपराधी पलायन कर गए थे लेकिन हेमंत सरकार आने के बाद यह फिर से अपने पांव पसार रही है। उन्होंने कहा है कि जब यह झारखंड के मुख्यमंत्री बने तो सभी थानों में संसाधन नहीं थे और पुलिसकर्मी भी 8000 थे लेकिन अब 80000 पुलिसकर्मी और सभी थानों में संसाधन है इसके बावजूद भी अपराध पर लगाम नहीं लगाया जा पा रहा है। यह बताने के लिए काफी है।

यह भी पढ़े…Coronavirus : झारखंड राज्य में कोरोना वायरस के 173 नये मामले, संक्रमितों की कुल संख्या 1,13,198 हुई…

कि करुणा का बहाना बनाकर हेमंत सरकार विकास पर पर्दा तो डाल सकती है लेकिन अपराध पर अंकुश क्यों नहीं लगाया जा रहा है। इसके अलावा उन्होंने कहा है कि देवघर सहित पूरे झारखंड में सड़कों की स्थिति बदहाल हो गई है। एक तरफ विकास का काम रुका हुआ है वहीं दूसरी तरफ जो कुछ भी विकास दिख रहा है। वह पूर्व के सरकार की है ऐसे में कहा जा सकता है कि सरकार विकास के मामले में झारखंड वासियों को ठग रही है।साथ में बाबूलाल मरांडी ने कहा कि खजाना खाली होने का बहाना है पत्थर और कोयला तस्करी हो रही है। और झारखंड सरकार सरकारी खजाने खाली होने का रोना रो रही है जबकि हेमंत सरकार अपने मंत्रियों का खजाना भर रहे हैं।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : 15 हजार ऑटो चालक अपनी 7 सूत्री मांगों को लेकर अनिश्चित कालीन हड़ताल पर…

इसके अलावा बाबूलाल मरांडी ने कहा कि बीजेपी ने सभी प्रखंडों में धरना प्रदर्शन किया जिसके बाद धान क्रय केंद्र खोला गया लेकिन फिर भी किसानों को राहत नहीं दी जा रही है इसके अलावा उन्होंने बेरोजगारी के मुद्दे पर सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि चुनाव के वक्त जो रोजगार देने की बात हुई थी उसमें भी है। मत सरकार फिसड्डी साबित हुई है आज युवा पलायन करने को मजबूर हैं।और नई नौकरियां तो मिल नहीं रही पुरानी नौकरियां जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.