NEWSTODAYJ_साहिबगंजः रूपा तिर्की केस को लेकर सीबीआई पूरी तरह से रेस है. मामले में धीरे-धीरे जांच का दायरा बढ़ता ही जा रहा है. अब मकतूल रूपा तिर्की के रिश्तेदारों के साथ बातचीत की प्रक्रिया शुरू की जा रही है.

यह भी पढ़े..Jharkhand news:सड़क जर्जर होने के कारण ग्रामीणों ने गोद में उठा कर गर्भवती महिला को पहुँचाया अस्पताल,सरकार पर उठे सवाल…

इसको लेकर सोमवार को सीबीआई के अफसर एसआईटी टीम में रही दारोगा भारती कुमारी के साथ केस की तहकीकात के लिए रिश्तेदार के पास पहुंची. लेकिन घर में बच्चे को छोड़कर कोई नहीं मिला. इसलिए सीबीआई की टीम को वहां से खाली हाथ लौटना पड़ा.

रूपा तिर्की की मौत के बाद एक एसआईटी टीम गठित हुई थी. जिसमें दो (पुअनि) महिला दारोगा की टीम में शामिल थीं. टीम लीडर बरहड़वा डीएसपी पीके मिश्रा थे. रूपा तिर्की की मौत के बाद केस की तहकीकात और आत्महत्या से जुड़ी फाइल तैयार करने में एसआईटी टीम की 2 महिला दरोगा शुरू से रहीं.

रूपा तिर्की के रिश्तेदार के घर CBI की टीम

सोमवार को सीआईडी के वरीय पदाधिकारी की ओर से जिरवाबाड़ी ओपी थाना से एसआईटी टीम में शामिल दारोगा भारती कुमारी को साथ लेकर गंगा बिहार पार्क स्थित जज कॉलोनी से सटे C-1 बिल्डिंग में रहे रूपा तिर्की की बुआ और फूफा से अहम जानकारी लेने के लिए पहुंची थी. लेकिन घर में दो छोटे बच्चों को छोड़कर कोई नहीं था. इस वजह से टीम तत्काल बैरंग वापस लौट आयी. ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि देर रात तक सीबीआई केस से जुड़ी कुछ जानकारी लेने के लिए वहां दोबारा जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *