Health_department: लॉकडाउन के कारण बच्चों पर पड़ता नकारात्मक प्रभाव, मनोचिकित्सक एवम शिशु रोग विशेषज्ञ ने दी ख्याल रखने की सलाह

Health_departmet,लॉकडाउन के कारण बच्चों पर पड़ता नकारात्मक प्रभाव, मनोचिकित्सक एवम शिशु रोग विशेषज्ञ ने दी ख्याल रखने की सलाह

 

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

NEWSTODAYJ_health department: वैश्विक महामारी कोरोना के बढ़ते संक्रमण से बचाव के लिए सरकार द्वारा जारी लॉकडाउन में परेशानियां तो सभी को हो रही है, परंतु बच्चों को विशेषकर कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिससे उनके दिल दिमाग पर नकारात्मक प्रभाव बढ़ती जा रही है। ऐसे में देखा जा रहा है कि बच्चों में चिड़चिड़ापन, भूख ना लगना सहित कई परेशानियां मुंह बाए खड़ी है। इस बाबत शिशु रोग विशेषज्ञ और मनोचिकित्सकों ने बताया कि वैश्विक महामारी में लॉकडाउन जहां बड़ों के लिए परेशानी का सबब बना बना हुआ है।

 

 

यह भी पढ़ें….

Health department: अगर खुश रहना चाहते हैं तो मस्तिष्क मैं मौजूद डोपामाइन बढ़ाएं, जाने तरीके

वहीं बच्चों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इससे बचाव के लिए अभिभावकों को विशेष सतर्कता बरतते हुए बच्चों को घर में ही एक स्वस्थ माहौल देने का प्रयास करना चाहिए। जिसके लिए इंडोर गेम, कैरम, लीडो तथा अन्य पारंपरिक तरीके से बच्चों को मन बहलाने का साधन शुरू करें।

इस लॉक डाउन के दौरान अभिभावकों को बच्चों के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताना आवश्यक है। ऐसा करने से बच्चों के दिमाग दिलो-दिमाग पर नकारात्मक प्रभाव का असर कम हो जाएगा और उन्हें घर में ही एक स्वस्थ माहौल मिल सकेगा। जिससे कि उनका दिमागी विकास अवरूद्ध ना हो।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here