4 December 2023

न्यूज़ टुडे झारखंड/बिहार (Dhanbad) धनबाद जिले के विभिन्न क्षेत्रों में Durga Puja 2023 का शुरुआत हो गई है।आज शुक्रवार से करीब करीब स्थानों में पट खोल दी गई है।बताया जाता है कि जहां नारी की पूजा होती है, वहां देवता का निवास होता है। नारी एक बड़ी शक्ति है। मां भगवती भी शक्ति स्वरूपा हैं, जिसके आगे सभी देवता नतमस्तक हैं। इसी भाव के साथ मां की आराधना में महिलाएं बढ़-चढ़कर भाग ले रही हैं।

Ad Space

Dhanbad : 20 अक्तूबर से 25 अक्तूबर तक कार्यरत रहेगा जिला नियंत्रण कक्ष,22 थाना क्षेत्र पर रहेगी विशेष निगरानी…

इस साल केन्द्र में वर्षों से लंबित महिला आरक्षण बिल को हरी झंडी देने के बाद दुर्गापूजा में महिलाओं की जबर्दस्त भागीदारी देखी जा रही है। कल तक नारी की प्रधानता शास्त्रों और वेदों तक ही सीमित थी, अब इसकी शक्ति को भारतीय संसद ने भी प्रणम्य स्वीकारा है। नारी त्रैलोक्य जननी नारी त्रैलोक्य रूपणी, नारी त्रिभुवनं धरा नारी शक्तिरूपणी..। मतलब नारी समस्त प्रगति का मूलाधार है। हीरापुर के जिला परिषद मैदान में बंगाली कल्याण समिति द्वारा आयोजित भव्य दुर्गापूजा की पूरी तैयारी महिला शक्ति ने कर रखी है, जिसमें करीब 125 महिलाएं हैं। बैंक मोड़ पूजा पंडाल के मुख्य द्वार का पूरा दृश्यांकन महिला की तस्वीर लगाकर किया गया है, जो नारी शक्ति की भावनाओं को व्यक्त करता है। केवल इतना ही नहीं, डिगवाडीह बालू लाइन में स्थित शिव मंदिर प्रांगण में केवल महिला शक्ति द्वारा दुर्गा पाठ किया जा रहा है।

Crime News : बैंक मोड़ पुलिस ने दो बदमाशों को हथियार के साथ किया गिरफ्तार,SSP ने दी जानकारी…

धनबाद जिला के डिगवाडीह में ही केवल महिला द्वारा पाठ किया जाता है। पाठवाचिका विमला पांडेय ने बताया कि वे यहां 12 साल से महिलाओं को साथ लेकर वासंती और शारदीय नवरात्र में पाठ करती हैं। उनके द्वारा यह 24वां पाठ है।

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"