Durga Puja 2020 : आज महाषष्ठी पूजा के साथ जिले के ज्यादातर पूजा पंडालों के पट खुल जाएंगे…

Durga Puja 2020 : आज महाषष्ठी पूजा के साथ जिले के ज्यादातर पूजा पंडालों के पट खुल जाएंगे…

NEWSTODAYJ : (ब्यूरो रिपोर्ट) धनबाद।नवरात्र का गुरुवार को छठा दिन है। माता के कात्यायनी स्वरूप की पूजा हो रही है। आज महाषष्ठी पूजा के साथ जिले के ज्यादातर पूजा पंडालों के पट खुल जाएंगे। हालांकि पंडाल और मंदिरों में प्रवेश की अनुमति नहीं मिलेगी। मातारानी का दर्शन बाहर से ही करना होगा। विभिन्न मंदिरों एवं पूजा पंडालों से श्रद्धालु पास के बेल वृक्ष के समीप पहुंच कर विधि-विधान से पूजा करेंगे।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : पुरानी रंजिश को लेकर भिड़े लाठी-डंडे , फायरिंग से हुई झड़प एक घयाल…

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

जलाशयों में स्नान के बाद यजमान कलश में पवित्र जल भरकर वापस आयोजन स्थल पहुंचेंगे। इसी पवित्र जल से माता का बेलभरनी पूजन किया जाएगा। इसके साथ ही क्षेत्र के सभी पूजा पंडालों में पारंपरिक रीति-रिवाज के साथ विधिवत रूप से मां दुर्गा की पूजा-अर्चना शुरू होगी।हीरापुर हरि मंदिर में षष्ठी पूजा सुबह आठ बजे से और नौ बजे पुष्पांजलि होगी। शहर के अन्य पूजा पंडालों में शाम पांच बजे बेलभरनी पूजा का आयोजन होगा। बुधवार को देर रात तक पूजा पंडालों को अंतिम रूप देने में कलाकार व सदस्य जुटे रहे।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : महिलाओं की सहायता के लिए व्हाट्सएप नंबर 9709795555 जारी…

शहर व आस-पास के क्षेत्रों में कोरोना को लेकर इस वर्ष चार फीट की प्रतिमा और छोटे पंडाल बनाए जा रहे हैं। नवरात्रि के छठे दिन मां कात्यायनी की पूजा करने का विधान है। मां कात्यायनी ने महिषासुर नाम के असुर का वध किया था। जिस कारण मां कात्यायनी को दानवों, असुरों और पापियों का नाश करने वाली देवी कहा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here