• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Disputed statement : मुख्यमंत्री का विवादित बयान, कहा- आदिवासी कभी न हिन्दू थे और न हैं…

1 min read

Disputed statement : मुख्यमंत्री का विवादित बयान, कहा- आदिवासी कभी न हिन्दू थे और न हैं…

NEWSTODAYJ रांची : झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने एक ऐसा दावा कर दिया है जिस पर बड़ा विवाद खड़ा हो सकता है।उन्होंने कहा कि आदिवासी हिंदू नहीं हैं।सोरेन ने शनिवार देर रात हार्वर्ड इंडिया कॉन्फ्रेंस को वर्चुअल माध्यम से संबोधित किया. उन्होंने कहा कि आदिवासी कभी न हिंदू थे, न हैं।

यह भी पढ़े…Bihar News : बिहार में एक मार्च से स्कूल जा सकेंगे पहली से पांचवी क्लास तक के बच्चे…

उन्होंने आगे कहा कि “आदिवासी समाज प्रकृति पूजक है और इनका अलग रीति-रिवाज है।सदियों से आदिवासी समाज को दबाया जाता रहा है, कभी इंडिजिनस कभी ट्राइबल तो कभी अन्य के तहत पहचान होती रही” सीएम ने कहा कि इस बार की जनगणना में आदिवासी समाज के लिए अन्य का भी प्रावधान हटा दिया गया है।मुख्यमंत्री के आदिवासी वाले बयान पर कांग्रेस प्रवक्ता शमशेर आलम ने कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का बयान बिलकुल सही है।हम उनका समर्थन करते हैं।आदिवासी कभी हिन्दू ना थे और ना रहेंगे।जिस तरह से आदिवासी सरना धर्म कोड का मांग करते हैं। लगातार आदिवासी सरना धर्म को मानते हैं।उन्होंने सही कहा है।

यह भी पढ़े…Coronavirus : पश्चिमी राज्य में एक बार फिर LOCKDOWN लगाने की संभावना , CM ने कहा ये बात…

वही इस बयान पर BJP प्रवक्ता प्रदीप सिन्हा ने कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा एक ढोंगियों की जमात है।सता में आने के बाद मुख्यमंत्री को सिर्फ आदिवासी याद आता है।जो आदिवासी से धर्म बदलकर क्रिशचन बन गए, उस पर चुप्पी साध लेते हैं।इस तरह के टीका टिप्पणी करते हैं।BJP प्रवक्ता विनोद शर्मा ने कहा कि सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि साजिश के तहत दिया गया बयान है।आदिवासी भारतीय संस्कृति के अभिन्न अंग हैं।शुरू से हिन्दू धर्म से जुड़े रहे हैं।हेमंत सोरेन को विरासत में राजनीति मिली है।वोटबैंक के लिए हेमंत कुछ भी कर सकते हैं, लेकिन देश का आदिवासी समाज उनके झांसे में नही आएगा।JDU प्रवक्ता अभिषेक झा ने कहा कि बाबा साहब ने संविधान की रचना काफी सोच समझकर की है। ताकि समाज के सभी वर्ग का विकास हो सके।कुछ नेता खास समाज को भड़काने के लिए और अपनी राजनीति को चमकाने के लिए गलत बयान देते हैं।जनता सब कुछ जानती हैं।

यह भी पढ़े…Crime News :Crime News : पुलिस ने गोली बमबाजी करने वाले फरार अभियुक्त को,लोडेड पिस्टल के साथ किया गिरफ्तार…

जनता से विनम्र अपील होगी इस तरह के बयानों से बचें।कांग्रेस नेता चंद्रप्रकाश ने कहा कि हेमंत सोरेन का बयान उनके निजी विचार हैं।अपने ज्ञान के आधार पर उनका विश्लेषण है, लेकिन हकीकत में आप देखेंगे तो हिन्दू या किसी अन्य जाति में बंटने से पहले लोग आदिवासी ही थे।जहां तक आदिवासियों के विकास की बात है राज्य और केंद्र सरकारों को देखना चाहिए कि आदिवासी समाज के लोग मुख्य धारा से अलग हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें