Dhanbad News : प्लाज्मा डोनेट करने का संकल्प लेकर हुए कोलकाता रवाना…

1 min read

Dhanbad News : प्लाज्मा डोनेट करने का संकल्प लेकर हुए कोलकाता रवाना…

NEWSTODAYJ : धनबाद जिले में कोरोना वायरस से संक्रमित कोलकाता के खिदिरपुर में रहने वाले शैलेंद्र सिंह का निरसा पॉलिटेक्निक में उपचार किया गया। 12 दिन के उपचार के बाद वे स्वस्थ हो गए और कोलकाता के लिए प्रस्थान किए।प्रस्थान करने से पूर्व उन्होंने निरसा पॉलिटेक्निक की बेहतरीन व्यवस्था के लिए उपायुक्त सह अध्यक्ष, जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार, धनबाद उमा शंकर सिंह सहित अस्पताल के नोडल पदाधिकारी डॉ विकास कुमार राणा, पर्यवेक्षक अमित कुमार, वार्ड बॉय सुरज कुमार ठाकुर, सुनील गोप, दीपक गोराई, सुरक्षा

यह भी पढ़े…Dhanbad News : कोरोना की रोकथाम के लिए नुक्कड़ नाटक से चलाया जागरुकता अभियान…

कर्मी सबिर अहमद, सुभाशीष गोप सहित पूरे मेडिकल टीम की खूब प्रशंसा की।शैलेंद्र सिंह ने बताया कि वे किसी काम के सिलसिले में 4 अक्टूबर को कोलकाता से झारखंड आ रहे थे। इस क्रम में एनएच-2 चेक पोस्ट पर उनकी कोविड जांच की गई। जांच में वे पॉजिटिव मिले। इसके बाद उन्हें निरसा पॉलिटेक्निक में उपचार के लिए भर्ती कराया गया।उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण और घर से दूर, अन्य राज्य के कोविड अस्पताल में रहने की कल्पना से वे काफी असहज महसूस करने लगे। परंतु जब अस्पताल में भर्ती हुए तब वहां के नोडल पदाधिकारी डॉ विकास कुमार राणा ने उनका मानसिक परामर्श किया और सभी कर्मचारियों ने उनका हौसला बुलंद कराया।

यह भी पढ़े…Water supply scheme : प्रखण्ड के 35 हजार 6 सौ 21 परिवारों के घरों तक पहुचेगी पानी , 245 करोड़ की लागत से पूरा होगा वृहत ग्रामीण जलापूर्ति योजना…

कुछ समय बिताने के बाद मन स्थिर हुआ। थोड़ी देर में पौष्टिक भोजन और दवाइयां देकर उपचार शुरू किया गया।उन्होंने कहा कि निरसा पॉलिटेक्निक के हवादार कमरे, नियमित रूप से साफ सफाई, भोजन और नाश्ता में पौष्टिक आहार, मेडिकल टीम व अन्य कर्मचारियों का अच्छा व्यवहार और नियमित ट्रीटमेंट के बाद उन्होंने 9 दिन में वैश्विक माहमारी के विरुद्ध जंग को जीत लिया। ट्रिटमेंट के दौरान कई बार टेलीमेडिसिन स्टूडियो से चिकित्सकों ने उनका मानसिक परामर्श किया।

यह भी पढ़े…Coal scam : सीबीआई ने अदालत से पूर्व मंत्री दिलीप रे को उम्र कैद की सजा देने का अनुरोध किया…

शैलेंद्र सिंह ने कहा कि जरूरत पड़ने पर वे अन्य गंभीर मरीजों के लिए अपना प्लाज्मा डोनेट करेंगे। साथ ही किसी भी प्रकार की सेवा देने के लिए हमेशा तत्पर रहेंगे। उन्होंने लोगों से अपील की कि कोरोना से बचने के लिए मास्क लगाएं, नियमित हैंड वॉश करें, बाहर निकलते वक्त शारीरिक दूरी का पालन करें। इसके बाद अपना डिस्चार्ज सर्टिफिकेट लेकर सुखद अनुभव को साथ लेकर वे कोलकाता के लिए प्रस्थान किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.