Dhanbad News : विश्व नए साल 2021 में नई उमंग, नए उत्साह और नई आशाओं के साथ प्रवेश करने के लिए लालायित…

1 min read

Dhanbad News : विश्व नए साल 2021 में नई उमंग, नए उत्साह और नई आशाओं के साथ प्रवेश करने के लिए लालायित…

NEWSTODAYJ धनबाद : अच्छी-बुरी यादों के साथ वर्ष 2020 अपने अंतिम पड़ाव पर है।लोगों को सुखद अनुभव तो कम हुआ, परंतु वैश्विक महामारी कोरोना ने पूरे वर्ष विश्व के लोगों को घरों में बंधक बना कर रखा। ऐसे में लोगों ने वर्ष 2020 को एक कड़वा अनुभव समझते हुए विदाई देने में जुट गए हैं। हालांकि वर्ष 2020 ने लोगों को बताया कि अपनों का संग कैसा होता है, अपने गांव की मिट्टी, अपने वतन वापसी और परिजनों के साथ समय व्यतीत करना ही परमसुख है। इसी अनुभव के साथ विश्व नए साल 2021 में नई उमंग, नए उत्साह और नई आशाओं के साथ प्रवेश करने के लिए लालायित है। ऐसे में कोयलांचल के लोग भी भला पीछे क्यों रहें, पुराने साल की विदाई और नए साल के आगमन को लेकर सभी वर्गों में एक उत्साह देखा जा रहा है। जिसके लिए कोयलांचल के लोगों ने अपनी प्लानिंग बना ली है। लोगों की नजर जिले के रमणीक स्थलों की ओर जाना स्वभाविक है। तो हम जानते हैं कि धनबाद में वह कौन से स्थल होंगे, जहां वर्ष 2020 की विदाई और 2021 के आगमन के लिए लोगों का हुजूम जुटेगा और आनंदित होंगे।

यहाँ देखे वीडियो।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : मृतिका कल्यानी के पीड़ित परिजन से मिलने से पहुचे शिवधारी राम व भाजपा नेत्री…

मैथन ने अपना नाम “माँ का स्थान” से लिया है, जिसका अर्थ है हिंदू देवी माँ कल्याणश्वरी के लिए जगह। यह बराकर नदी के तट पर स्थित है। मैथन डैम धनबाद के कोयला शहर से लगभग 48 किमी दूर स्थित है। अंडरग्राउंड पावर स्टेशन वाला बांध पूरे दक्षिण पूर्व एशिया में अद्वितीय है। जिस झील पर यह बनाया गया है वह 65 वर्ग किलोमीटर से अधिक फैला हुआ है। यह वर्ष 1948 में दामोदर घाटी निगम (डीवीसी लिमिटेड) द्वारा विकसित किया गया था। बांध लगभग 15712 फीट लंबा और लगभग 165 फीट लंबा है। भूमिगत पावर स्टेशन में बिजली की लगभग 60,000 किलोवाट बिजली उत्पादन क्षमता है।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : इंडस्ट्रीज एंड कॉमर्स एसोसिएशन की 87वी आम सभा…

मैथन डैम स्वयं एक खूबसूरत झील और खूबसूरत हरे जंगलों के बीच स्थित है। आप झील पर दोस्तों और परिवार के साथ नौकायन का लाभ उठा सकते हैं। इसके अलावा आप झील के चारों ओर खूबसूरत हरे जंगलों में भी चल सकते हैं। यहाँ से सूर्योदय और सूर्यास्त देखना पर्यटकों के लिए दर्शनीय है, जिसे अगर आप मैथन में हैं तो इस अवसर को खोना नहीं चाहेंगे। यदि आप आध्यात्मिक मानसिकता के हैं तो आपको माता देवी कल्याणेश्वरी के प्राचीन मंदिर भी जाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.