Dhanbad News : नेताजी सुभाष चंद्र बोस जंक्शन गोमो स्टेशन पर निष्क्रमण दिवस मनाया गया…

1 min read

Dhanbad News : नेताजी सुभाष चंद्र बोस जंक्शन गोमो स्टेशन पर निष्क्रमण दिवस मनाया गया…

NEWSTODAYJ : धनबाद जिले के नेताजी सुभाष चंद्र बोस जंक्शन गोमो स्टेशन पर बीती रात्रि निष्क्रमण दिवस मनाया गया।इस दौरान स्टेशन पर नेताजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया।साथ ही कालका मेल के गार्ड और ड्राइवरों को माल्यार्पण कर उन्हें मिठाई खिलाकर विदा किया गया।गोमो रेलवे स्टेशन का ऐतिहासिक महत्व है।18 जनवरी 1941 को अंतिम बार नेताजी सुभाष चंद्र बोस यहीं पर देखे गए थे।स्वतंत्रता संग्राम के दौरान इसी स्टेशन से कालका मेल पकड़कर नेताजी पेशावर (अब पाकिस्तान) के लिए रवाना हुए थे, जिसके बाद उन्हें फिर कभी नहीं देखा गया।

यह भी पढ़े…Janmabhoomi temple construction : श्री राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण निधि समर्पण अभियान का शुभारंभ…

जिस कारण प्रत्येक वर्ष 17-18 जनवरी को मध्यरात्रि निष्क्रमण दिवस स्टेशन परिसर में मनाया जाता है और नेताजी को याद किया जाता है। नेताजी कोलकाता से सड़क मार्ग से अपनी एक कार पर सवार होकर गोमो तक पहुंचे थे।अपनी कार को कुछ दूरी पर लगाकर वह पठान के वेश में अपने मित्र शेख मोहम्मद अब्दुल्ला के घर गए थे।जहां से अब्दुल्ला के किराएदार अमीन नामक एक दर्जी ने उन्हें कालका मेल में बैठाकर पेशावर के लिए रवाना किया था।

यह भी पढ़े…seismic wave : भूकंप का हल्का झटका, कोई हताहत नहीं , 3.5 तीव्रता के भूकंप का झटका…

पहले इस स्टेशन को गोमो स्टेशन के नाम से जाना जाता था, लेकिन नेताजी के जन्मदिन 23 जनवरी 2009 को तत्कालीन रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव ने इस स्टेशन का नाम नेताजी सुभाष चंद्र बोस जंक्शन गोमो कर दिया।आज भी स्टेशन का समुचित विकास नहीं हो सका है।स्थानीय लोगों का कहना है कि ऐतिहासिक स्टेशन होने के बावजूद इसका समुचित विकास अब तक नहीं हो पाया है। सरकार इसमें जल्द से जल्द ध्यान दें और इसका समुचित विकास करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.