Dhanbad News : झारखंड पुलिस महानिदेशक एमवी राव प्रस्तावित धनबाद दौरा अज्ञात कारणों से रद्द…

Dhanbad News : झारखंड पुलिस महानिदेशक एमवी राव प्रस्तावित धनबाद दौरा अज्ञात कारणों से रद्द…

NEWSTODAYJ : धनबाद जिले में झारखंड पुलिस महानिदेशक एमवी राव का बुधवार को प्रस्तावित धनबाद दौरा अज्ञात कारणों से रद्द हो गया। हालांकि बरवाअड्डा स्थित हवाई पट्टी पर उनके आगमन की पूरी तैयारी कर ली गई थी। जिले के वरीय पुलिस अधीक्षक समेत अन्य पुलिस अधिकारी भी हवाई अड्डा पर पहुंच चुके थे। इस बीच हेलीपैड के निर्धारित स्थल की मेटल डिटेक्टर से जांच करने पर टेक्नीशियनो को कुछ संदेह हुआ। क्योंकि जांच के दौरान मेटल डिटेक्टर का बीप लगातार बज रहा था।

यहाँ देखे वीडियो।

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

यह भी पढ़े…Dhanbad News : राज्यव्यापी धरना हेमंत सरकार पर BJP ने जाम कर तंज कसा…

ऐसा प्रतीत हो रहा था कि बनाए गए हेलीपैड स्थल के भूभाग में अंदर कुछ मेटल की वस्तु है। जिसके वजह से एक निश्चित स्थान पर मेटल डिटेक्टर की बीपिंग लगातार जारी रही। ऐसे में पुलिस के वरीय अधिकारी चौकन्ने हो गए और आनन-फानन में उस जगह की तोड़कर जांच की गई, परंतु वहां कुछ नहीं मिला। जबकि मेटल डिटेक्टर की बीपींग जारी है। ऐसे में हवाई अड्डा अथॉरिटी बताते हैं कि पीडब्ल्यूडी द्वारा उक्त स्थल की खुदाई कराई जाएगी। उसके बाद ही स्पष्ट जानकारी मिल सकेगी कि हेलीपैड के निर्धारित स्थल के नीचे क्या छुपा हुआ है। जिससे मेटल डिटेक्टर की बीपींग लगातार जारी रही। मामले में वरीय पुलिस अधीक्षक असीम विक्रांत मिंज ने बताया कि झारखंड पुलिस निदेशक एमवी राव को धनबाद पहुंचना था। धनबाद में कई क्राइम केस को लेकर उच्च स्तरीय बैठक तय की गई थी।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : अंतरराष्ट्रीय अल्पसंख्यक अधिकार दिवस को लेकर एक बैठक…

जिसकी तैयारी पूरी कर ली गई थी। ऐसे में कुछ अज्ञात कारणों से पुलिस महानिदेशक एमभी राव का धनबाद धनबाद आगमन रद्द हुआ है। हेलीपैड पर मेटल डिटेक्टर से जांच के दौरान लगातार बीपिंग होने की घटना के बाबत उन्होंने बताया कि उसकी जांच की जा रही है। विभागीय तकनीशियन आने के उपरांत जगह की खुदाई होगी, इसके बाद ही कुछ भी स्पष्ट तौर पर बताया जा सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here