• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Dhanbad News : कमीशन में वृद्धि समेत 9 सूत्री मांगों को लेकर फेयर प्राइस डीलर्स एसोसिएशन ने दिया धरना

1 min read

NEWSTODAYJ : धनबाद जिले में फेयर प्राइस डीलर्स एसोसिएशन ने अपनी 9 सूत्री मांगों को लेकर रणधीर वर्मा चौक पर धरना दिया। खाद्य सुरक्षा योजना चला रहे विक्रेताओं के आर्थिक सुरक्षा हेतु निश्चित मासिक आय की स्वीकृति और विश्व खाद्य कार्यक्रम (डब्लूएफपी) के रिपोर्ट के आधार पर कमीशन में वृद्धि प्रमुख मांगे रहीं। एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष रमेश सिंह ने कहा कि धनबाद जिले के जन वितरण विक्रेता जो भारत सरकार के खाद्य सुरक्षा योजना का संचालन करते आ रहे हैं, हमने कोविड संक्रमण के दौर में भी अपनी जान जोखिम में डालकर एनएफएसए के साथ पीएमजीकेवाय योजनाओं को लाभर्थियों के बीच धरातल पर लागू करने में कोई कसर नहीं छोडी।

 

यह भी पढ़े…. Dhanbad News : विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर महिला स्वास्थ्य कर्मियों ने निकाली रैली

 

इसी व्यवसाय से सभी के परिवार का गुजारा, बच्चों की परवरिश, पढ़ाई, परिवारों की चिकित्सा, बेटियों की शादी से लेकर तमाम. पारिवारिक जरुरतों को पुरा करते हैं जो अब महंगाई के बढ़ते जाने से हमारी जरूरतें पुरी नहीं होती। हमें नाम मात्र का कमीशन मिलता है जिससे मात्र 20 रु प्रति क्विंटल की वृद्धि की गयी है जो आज के समय में अपर्याप्त है, हमें न तो सरकारी कर्मियों के समकक्ष दर्जा दिया जाता है और न ही जीवनयापन के लिए – पर्याप्त कमीशन या प्रोत्साहन भत्ता (मानदेय) ही मिलता है। हमें कोरोना योद्धा का दर्जा वर्क नहीं दिया गया और न ही मृत विक्रेताओं के आश्रितों को मुआवजा ही दिया गया। राजस्थान सरकार ने 50 लाख दिए, गुजरात सरकार 25 लाख की घोषणा की और पश्चिम बंगाल ने 2 लाख देने का आदेश दिया। हमारी मांगों पर मानवीय दृष्टिकोण से विचार किया जाना चाहिए।

 

 

यह भी पढ़े…..Dhanbad News : विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर सदर अस्पताल में कार्यक्रम का हुआ आयोजन,विधायक राज सिन्हा ने किया उद्घाटन

 

9 सूत्री मांगों में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना चला रहे देश के सभी विक्रेताओं की वर्ल्ड फूड प्रोग्राम द्वारा अनुशंशित 440 रु प्रति क्विंटल खाद्यानों में कमीशन की राशि की स्वीकृति दिये जाने के साथ 50 हजार रूपये मासिक तक की निश्चित आय को सुनिश्चित युनिश्चित किया जाय,चावल, गेंहू, चीनी जैसे खाद्य पदार्थों में एक किलो प्रति क्विंटल की हैंडलिंग लॉस देने पर बनी सहमति के आधार पर सभी राज्यों में इसे अविलम्ब लागू कराया जाय,सभी राज्यों के राशन दुकानों में देश की बड़ी आबादी को खाद्यानों के साथ खाद्य तेल और दाल की आपूर्ति प्रतिमाह के लिए स्वीकृति दी जाय,एलपीजी गैस जो देश के सभी जिलों में मौजूद डिस्ट्रीव्यूटरों के माध्यम से उपभोक्ताओं को संबद्ध कर वितरित करवाया जाता है, उसे राशन की दुकानों से भी कुछ उपभोक्‍ताओं की संबद्ध कर एलपीजी सिलिंडर की बिक्री करने का प्रावधान किया जाय जिससे राशन दुकानों की व्यवहारिता में बढ़ोत्तरी हो सके और जनता को सहज और सुलभ रूप से इसका लाभ मिले,खाद्यान्नों को पुन: जुट बोरे में आपूर्ति करने का आदेश दिया जाय आदि मांगे शामिल रही। एसोसिएशन ने चेतावनी देते हुए कहा कि मांगों पर विचार नही किये जाने की स्थिति में आगामी 2 अगस्त को संसद भवन के समक्ष धरना एवं प्रदर्शन को मजबूर हो जाएंगे |

Leave a Reply

Your email address will not be published.