• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Dhanbad News : बराकर नदी के समीप बोरे में मिला आधार कार्ड का जखीरा

1 min read

NEWSTODAYJ : धनबाद में बराकर नदी में बोरे में एक हजार से अधिक आधार कार्ड मिले हैं। नदी में बहाकर इन्हें नष्ट करने की कोशिश की गई लेकिन उससे पहले यह मछुआरों के हाथ लग गए। प्रशासन ने दिए जांच के आदेश।धनबाद जिले के निरसा कोयला क्षेत्र से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। बराकर नदी में बोरे में एक हजार से अधिक आधार कार्ड मिले। बोरे में भर एक हजार से अधिक आधार कार्ड को बराकर नदी में बहाकर नष्ट करने की कोशिश की गई। हालांकि नष्ट होने से पहले बोरे में बंद आधार कर्ड मछुआरों को मिल गए। पूरे मामले की सूचना स्थानीय प्रशासन को मिली, तो तुरंत जांच का निर्देश दिया गया है।एमपीएल ओपी क्षेत्र के भागाबांध गांव के समीप बराकर नदी और आसपास से बुधवार की शाम एक हजार की संख्या में आधार कार्ड मछुआरों को मिले। सूचना मिलने पर एमपीएल ओपी प्रभारी गैलेन रजवार पहुंचे और सभी आधार कार्ड को जब्त कर लिया। भागाबांध के कुछ लोगों को आधार कार्ड दे दिया गया।

 

यह भी पढ़े…..National News : 200 करोड़ टीकाकरण का लक्ष्य पूरा होने पर प्रधानमंत्री मोदी ने कोविन वेबसाइट पर पत्र लिख कर दी बधाई

 

लोग साइबर अपराधियों द्वारा आधार फेंके जाने या पोस्ट ऑफिस कर्मी पर लापरवाही का आरोप लगा रहे हैं।मछुआरों ने बताया कि उन्होंने बुधवार की शाम मछली पकड़ने के लिए नदी में जाल फेंका। जाम में एक बोरा फंस गया। किसी तरह बोरे को नदी से निकाल कर खोला, तो देखकर मछुआरे आश्चर्यचकित रह गए। बोरे में एक हजार से अधिक की संख्या में आधार कार्ड मिले। ज्यादातर आधार कार्ड 2014 में बने हुए थे। यह खबर सुनकर काफी लोग जुट गए। भागाबांध के कुछ लोगों को आधार कार्ड दे दिया गया।बोरे में भरकर आधार कार्ड को नदी में फेंके जाने की मंशा लेकर कई तरह की आशंका व्यक्त की जा रही है। आधार कार्ड के दुरुपयोग को लेकर भी लोग सकते में हैं। प्रथम दृष्टया यही बात सामने आ रही है कि एक हजार से अधिक आधार कार्ड को नष्ट करने के लिए ही नदी में उसे फेंक दिया गया। लोगों का कहना था कि आधार कार्ड बनवाने में कितनी मशक्कत करनी पड़ती है, लेकिन बना हुआ आधार कार्ड लोगों तक पहुंचाने की जगह आसानी से बराकर नदी में फेंक दिया गया। जो बनने के सात या एक माह बाद पोस्ट ऑफिस के माध्यम से लाभुकों को भेजा जाता है। साथ ही ग्रामीणों ने पूरे मामले में अधिकारियों से लापरवाही बरतने वालों को कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग की। आगे ग्रामीणों ने कहा कि आधार कार्ड के बिना कई लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है।निरसा बीडीओ विजय कुमार राय ने कहा, ‘भागाबांध में कुछ आधार कार्ड मिलने की सूचना है, यह गंभीर मामला है। मामले की जांच कराई जा रही है। जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी।’

Leave a Reply

Your email address will not be published.