DHANBAD NEWS”संगठित कोयला चोरी रोकने के लिए जिला प्रशासन, पुलिस, बीसीसीएल व सीआईएसएफ समन्वय के साथ करेंगे काम…

(पिछले 3 वर्ष में कोयला चोरी की दर्ज एफआईआर की होगी समीक्षा)

NEWSTODAYJ”धनबाद:संगठित कोयला चोरी को रोकने के लिए बुधवार को न्यू टाउन हॉल में कोआर्डिनेशन कमेटी की बैठक उपायुक्त संदीप सिंह की अध्यक्षता में आयोजित की गई,बैठक में स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण तरीके से कोल माइनिंग सुनिश्चित करने तथा विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला प्रशासन, पुलिस, बीसीसीएल तथा सीआईएसएफ के बीच समन्वय स्थापित कर रणनीति बनाकर कोयला चोरी को रोकने का निर्णय लिया गया।

 

 

बैठक में पिछले 3 वर्षों में कोयला चोरी की दर्ज सभी एफआईआर और उसकी अद्यतन स्थिति की समीक्षा करने, खनन स्थल और गंतव्य पर कोयले लोडेड ट्रक का वजन करने, नियमित रूप से जांच अभियान चलाने का निर्णय लिया गया

बैठक में उपायुक्त ने कहा कि भारत कोकिंग कोल लिमिटेड यह सुनिश्चित करे कि डीओ धारक नियमानुसार कोयले का लिफ्टिंग करे।

उन्होंने कहा कि अवैध कोल माइनिंग और अवैध कोल ट्रांसपोर्टेशन करने वालों के विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। माइनिंग एरिया में विधिवत और शांतिपूर्ण तरीके से काम चले यही बैठक का उद्देश्य है।बैठक में बंद पड़े कोल माइंस से कोयला चोरी रोकने के लिए कार्य योजना बनाने पर विचार विमर्श किया गया। खनन क्षेत्रों में पेट्रोलिंग करने के लिए बीसीसीएल द्वारा सीआईएसएफ को पर्याप्त संख्या में वाहन, इंधन मुहैया कराने, खनन कार्यों में बाधा पहुंचाने वालों के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज करने का भी निर्णय लिया गया।

 

 

बैठक में एसएसपी संजीव कुमार ने कहा कि कोयला चोरी की एफआईआर दर्ज कराते समय बीसीसीएल एसओपी का पालन करे एवं कोयला चोरी में मददगार बनने लोगों को चिन्हित करें। साथ ही बीसीसीएल पुलिस को जांच में सहायता प्रदान करे।बैठक में उपायुक्त संदीप सिंह, एसएसपी संजीव कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी प्रेम कुमार तिवारी, बीसीसीएल के निदेशक (तकनीकी), सीआईएसएफ के डीआईजी विनय काजला, कमांडेंट शेखर रमोला, बीसीसीएल तथा ईसीएल के महाप्रबंधक सहित अन्य प्रशासनिक व पुलिस पदाधिकारी, थाना प्रभारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *