DHANBAD NEWS:धनबाद के सक्षम कुमार और ऋषिका ने JEE ADVANCE में पाई बड़ी सफलता

0

NEWSTODAYJ_धनबाद: एससी वर्ग में 115 वां 493वां रैंक लाकर परिवार को दी विजयादशमी का तोहफ़ा, हावड़ा एडीआरएम विनोद पासवान के पुत्र है सक्षम. बेटे -बेटियों की सफ़लता से धनबाद का नाम रौशन हुआ.

JEE Advance 2021 परीक्षा में 41862 छात्र-छात्राएं रहे सफल

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

JEE Advance 2021 परीक्षा का परिणाम को घोषित कर दिया गया है. इस बार आईआईटी खड़गपुर को परीक्षा संचालन की जिम्मेदारी सौपी गई थी. उसी के द्वारा परीक्षा परिणाम घोषित किया गया. इस बार परीक्षा में 41862 छात्र-छात्राओं को पास किया है. जेईई एडवांस्ड के दोनों परीक्षाओं में कुल 1,41,699 छात्र छात्राओं ने हिस्सा लिया था.

यह भी पढ़े…Dhanbad news:पुराना बाज़ार,नौजवान कमिटी की बैठक में लिया गया निर्णय:ईद मिलादुन्नबी सादगी के साथ मनाया जाएगा

बता दें कि आइआइटी दिल्ली क्षेत्र के मृदुल अग्रवाल ने परीक्षा में टॉप किया है. वहीं लड़कियों में काव्या को पहला स्थान मिला है. एससी वर्ग में धनबाद के सरायढेला के रहनेवाले सक्षम कुमार को 115 वां और धनबाद के लोयाबाद की ऋषिका का 493वां रैंक मिला है.

बिना ट्यूशन-कोचिंग के JEE एडवांस की परीक्षा में मिली सफलता

धनबाद के सरायढेला नीलांचल कॉलोनी (शिवतारा भवन) के रहने वाले सक्षम के पिता विनोद पासवान वर्तमान में कोलकाता के हावड़ा में एडीआरएम के पद पर कार्यरत है. सक्षम ने अपनी 12 वीं की पढ़ाई राजस्थान कोटा से की है. कोरोना की वजह से दूसरे वर्ष की पूरी पढ़ाई ऑनलाइन ही किया. उसने परीक्षा की तैयारी एक कोचिंग से की थी. आगे चलकर सक्षम रिसर्चर या एंटरप्रेन्योरशिप बनना चाहते है. उनके पिता उनके मार्गदर्शक और प्रेरणास्रोत है. हावड़ा एडीआरएम विनोद पासवान के अनुसार, वे जो लक्ष्य लेकर चलना चाहे उसे पूरा करें, सक्षम के लिए सभी ऑप्शन खुले हुए है. वहीं लोयाबाद एकड़ा निवासी बैंककर्मी रंजीत पासवान की पुत्री ऋषिका कुमारी ने JEE ADVANCE का परीक्षा में एससी वर्ग में 493 रैंक प्राप्त किया है. ऋषिका ने 10 वीं कक्षा तक सरकारी स्कूल में पढ़ाई किया और 12वीं डीएवी मुनीडीह से 86 % अंक के साथ किया. उसने बिना किसी ट्यूशन-कोचिंग के JEE एडवांस की परीक्षा भी निकाल ली. ऋषिका का सपना आईएएस बनना है. राजगंज के धारकिरो के हर्षवर्धन तिवारी को सामान्य वर्ग में 1223 वां रैंक मिला है.

धनबाद जिले के धारकिरो ग्राम निवासी स्व.पं.तारकेश्वर तिवारी के बड़े पोते हर्षवर्धन ने आइआइटी की परीक्षा में 1223 वां रैंक लाकर अपने गांव और समाज का नाम रोशन किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here