Dhanbad news:कम्बाइड बिल्डिंग चौक पर राजनीति का खेल बदस्तूर जारी,महापुरुषों की प्रतिमा लगाने में राजनीति हो रही

 

NEWSTODAYJ_धनबाद:कोयलांचल में ‘राजनीति में पॉलिटिक्स’ का खेल देखना हो तो आ जाइए शहर के कम्बाइड बिल्डिंग चौक पर. इससे भी लोकेशन नहीं सनझ पाए है तो और सरल भाषा में कहा जा सकता है सिटी सेण्टर के ठीक सामने. वैसे तो महापुरुषों की प्रतिमा लगाने में राजनीति यहाँ के लिए पुरानी बात है. जितनी तेजी प्रतिमा लगा कर वाहवाही लूटने में दिखाई जाती है ,उसका एक अंश मात्रा भी रखरखाव में नहीं देखने को मिलती है. ताजा मामला आया है कम्बाइड बिल्डिंगचौक पर लाल बहादुर शास्त्री की प्रतिमा लगाने को लेकर. दरअसल ,2 अक्टूबर को यहाँ लाल बहादुर शास्त्री की प्रतिमा लगाई गई.

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

यह भी पढ़े…Dhanbad news:नौकरी चले जाने के बाद डिप्रेशन में आकर युवक ने की खुदकुशी

उस समय लगा कि चलिए पहली बार धनबाद में लाल बहादुर शास्त्री जी को सम्मान मिल रहा है. आयोजकों के इस प्रयास की मुक्त कंठ से तारीफ भी हुई. लेकिन अब पता चला है कि यह पूरा खेल तो ‘राजनीति में पॉलिटिक्स ‘का था. जरा सोचिए ,सदा जीवन ,उच्च विचार सहित जय जवान,जय किसान का नारा देने वाले शास्त्री जी को भी राजनीति में घसीटने का कैसे कुत्सित प्रयास किया गया. उनके इस कुत्सित प्रयास का कितना राजनितिक लाभ मिला ,यह तो धनबाद की जनता समय पर बताएगी लेकिन अभी इसकी चर्चा खूब हो रही है. लोग चटखारे के साथ जीतनी मुँह ,उतनी बातें कर रहे है.

अब राजनीति का खेल देखिए 

ठीक उसी स्थान पर पर्यावरण दिवस के मौके पर 5 जून 2007 को वन काली की प्रतिमा लगाई गई थी. शिलापट्ट के अनुसार इसका लोकार्पण तब के कांग्रेसी सांसद ददई दुबे ने किया था. पट्ट में वर्तमान सांसद पीएन सिंह का भी नाम अंकित है,जो उस वक्त धनबाद के विधायक हुआ करते थे. धनबाद के प्रदूषित पर्यावरण को ठीक करने और लोगो में जागृति लाने की मंशा से शहर के मुख्य चौराहे पर वन काली की प्रतिमा लगाई गई थी. यह सन्देश शिल्ला पट्ट में भी अंकित है.

यह भी पढ़े….Dhanbad news:अज्ञात अपराधियों ने रामावतार आउटसोर्सिंग में बमबाजी की घटना को दिया अंजाम

 

2 अक्टूबर को क्या हुआ

उस चौक के ठीक पास ही गाँधी जी की आदमकद प्रतिमा लगी है. लोग उन्हें श्रद्धांजली देने पहुंचे ,उसके बाद वन कली की प्रतिमा के ठीक आगे सटाकर शास्त्री जी की प्रतिमा का लोकार्पण धनबाद के विधायक राज सिन्हा ने किया. शिलापट्ट में लिखा गया कि सांसद पीएन सिंह की गरिमामयी मौजूदगी में विधायक ने लोकार्पण किया. कांग्रेस वालो का कहना है कि चुकीं ,वन कली की प्रतिमा का लोकार्पण कांग्रेस के सांसद ने किया था ,इसलिए आगे में शास्त्री जी की प्रतिमा लगा भाजपाई अपना नाम लिखवा लिए. .उनका कहना है कि लगाने वालो का प्रयास तो अच्छा था लेकिन उनकी नियत ठीक नहीं थी. क्योकि अगल बगल में जगह की कोई कमी नहीं थी. रणधीर वर्मा चौक तक निगम ने जो फेंसिंग कर बागवानी कराई है ,उसमे लाल बहादुर शास्त्री जी की प्रतिमा लगवाई जा सकती थी. भाजपा वालो को समझ में यह बात नहीं आ रहा था तो उन्हें चर्चा कर लेनी चाहिए थी.

किसने लगवाई प्रतिमा 

वन कली की प्रतिमा धनबाद जिला टिम्बर संघ के सौजन्य से लगी थी. लोकार्पण के समय उस समय के वन प्रमंडल पदाधिकारी संजीव कुमार भी मौजूद थे. शास्त्री जी की प्रतिमा लाल बहादुर स्मारक समिति ने लगवाई है और इसके अध्यक्ष है निर्वतमान पार्षद अशोक पाल. अशोक पाल भाजपा से जुड़े है और विधायक ,सांसद के समारोह में अक्सर देखे जाते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here