Crime news:गांजा की बड़ी खेप बरामद,1 क्विंटल 60 किलो गांजा के साथ दो गिरफ्तार

0

NEWSTODAYJ_पूर्वी चंपारण : बिहार के मोतिहारी में गांजा के साथ दो तस्कर गिरफ्तार (Two smugglers arrested with ganja in motihari) किया गया है. भारत नेपाल सीमा पर 60 लाख का गांजा जब्त किया गया है. भारत नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी के जवानो ने पूर्वी चंपारण जिला के महुआवा थाना क्षेत्र से गांजा के एक बड़ी खेप के साथ दो तस्करों को पकड़ा है. गांजा की खेप नेपाल से लाई जा रही थी. एसएसबी के जवानों ने गुप्त सूचना के आधार पर यह कार्रवाई की है.

 

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

दरअसल, एसएसबी के जवानों को सूचना मिली थी कि गांजे की बड़ी खेप की तस्करी होने वाली है. इस बाबत कार्रवाई करते हुए दो तस्करों को 1 क्विंटल 60 किलो गांजा के साथ गिरफ्तार किया. जब्त गांजे का अंतर्राष्ट्रीय बाजार में अनुमानित मूल्य लगभग 60 रुपया आंका जा रहा है. बताया जाता है कि एसएसबी के जवानों को गांजा की एक बड़ी खेप नेपाल से भारतीय परिक्षेत्र में आने की गुप्त सूचना मिली थी.

यह भी पढ़े…Crime news:दो पक्षों में हुई गोलीबारी में तीन साल की बच्ची को लगी गोली,दो आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

सूचना के आधार पर कौरैया पोस्ट पर तैनात एसएसबी के जवानों ने सतर्कता बढ़ा दी. इसी बीच जवानों को अंधेरे में कुछ हलचल सुनाई दी. जवानों ने हलचल की दिशा में घेराबंदी की. इस दौरान कुछ तस्कर नेपाल की ओर भाग खड़े हुए. जबकि दो तस्कर गांजा के बंडल के साथ पकड़े गए. गिरफ्तार दोनों तस्कर पूर्वी चंपारण जिला के संग्रामपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं. एक तस्कर भटवलिया गांव का रहने वाला लालबाबू महतो और दूसरा तस्कर जलहा मंगलपुर का रहने वाला रविरंजन है. एसएसबी ने दोनों तस्करों से पूछताछ के बाद उन्हें गांजा समेत महुआवा थाना को सौंप दिया है.

 

यहां यह बताना भी जरूरी है कि आए दिन तस्करों को इंडो-नेपाल बॉर्डर से गिरफ्तार किया जाता है. कभी चरस के साथ तो कभी गांजा तो कभी अन्य मादन पदार्थों के साथ. कहा जाता है कि चुंकि यह बॉर्डर खुला हुआ है, पासपोर्ट-वीजा की जरूरत नहीं पड़ती है. इसी कारण तस्कर इस रास्ते को सबसे ज्यादा चुनते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here