• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Budget 2021-22 : वित्त मंत्री ने Peasant movement पर कहा : सरकार बातचीत के लिए तैयार…

1 min read

Budget 2021-22 : वित्त मंत्री ने Peasant movement पर कहा : सरकार बातचीत के लिए तैयार…

NEWSTODAYJ नई दिल्ली : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को कहा कि सरकार तीन कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों से बातचीत के लिए तैयार है क्योंकि सिर्फ चर्चा के जरिए ही आगे बढ़ा जा सकता है। तीन कृषि कानूनों को वापस लिए जाने और फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के लिए कानूनी गारंटी देने की मांग के साथ हजारों किसान दो महीनों से अधिक समय से राष्ट्रीय राजधानी की विभिन्न सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं।बजट पेश करने के बाद सीतारमण ने एक सवाल के जवाब में मीडिया (Media) से कहा, “हम समझ सकते हैं कि किसान सीमा पर क्यों बैठे हैं।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : व्यवसायियों ने फुटपाथ , ठेला खोमचा वालों की बढ़ती संख्या तथा अराजक तत्व के जुटान पर प्रशासन से कार्रवाई करने की मांग…

अगर किसी भी किसान को कोई सवाल है, तो कृषि मंत्री (नरेंद्र सिंह तोमर) ने कभी भी बातचीत के अवसरों से इनकार नहीं किया है।उन्होंने कहा कि तोमर ने किसानों के साथ कई दौर की बातचीत की है और तीनों कानूनों पर खंड दर खंड सुझाव देने को कहा है।वित्त मंत्री ने कहा, ‘‘”इसलिए, मुझे लगता है, बातचीत ही एकमात्र समाधान है।सरकार बातचीत के लिए तैयार है।संसद का सत्र शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री ने कहा कि बातचीत का प्रस्ताव अब भी बना हुआ है।उन्होंने कहा कि जिन किसानों को संदेह या भ्रम है, उन्हें आगे आना चाहिए और सरकार के साथ बातचीत करनी चाहिए।इस बीच, कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने संवाददाताओं से कहा कि कुछ लोग तुच्छ राजनीतिक लाभ के लिए आग में घी डाल रहे हैं।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : अपहरण युवती को पुलिस सघन अभियान चलाकर युवती को बरामद कर लिया…

और “मैं समझता हूं कि किसान संगठन इसे समझेंगे।केंद्रीय बजट का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि लोग देख सकते हैं कि किसानों के लिए मोदी सरकार क्या करने की कोशिश कर रही है. उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि वे (किसान संगठन) निश्चित रूप से तुलना करेंगे और देखेंगे कि अब और संप्रग शासन के दौरान कितना आवंटन हुआ है.’’ उन्होंने भी जोर दिया कि केवल बातचीत के जरिए ही समाधान निकलेगा।चौधरी ने कहा, “निश्चित रूप से सरकार ने दरवाजे खुले रखे हैं।निश्चित रूप से, हल तभी निकलेगा जब हम बैठकर बात करेंगे।मुझे पूरा भरोसा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.