Bollywood: संघर्षों से भरा रहा है एक्टर पंकज त्रिपाठी का करियर, फिल्मों में काम करने के लिए धक्के खाते थे कभी….

0

Bollywood: संघर्षों से भरा रहा है एक्टर पंकज त्रिपाठी का करियर, फिल्मों में काम करने के लिए धक्के खाते थे कभी….

 

NEWSTODAYJ_Bollywood:फिल्मों की दुनिया में पंकज त्रिपाठी (Pankaj Tripathi) एक ऐसा नाम है जिसे शायद हर कोई पसंद करता होगा। पंकज ने अपनी अदाकारी से हर किसी को अपना मुरीद बनाया है।

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

गैंग्स ऑफ वासेपुर’,‘बरेली की बर्फी’, ‘लुकाछिपी’, ‘न्यूटन’ जैसी फिल्में हों या फिर वेबसीरीज ‘मिर्ज़ापुर’ के कालीन भइया, ‘सेक्रेड गेम्स’ के गुरू जी हों या वासेपुर के सुल्तान का किरदार हो,इन सब में पंकज त्रिपाठी ने अपनी अदाकारी से हर फैंस का दिल जीता है।

यह भी पढ़े…..Bollywood: राज कुंद्रा पोर्न मामला, पुलिस ने किया नई गैंग का पर्दाफाश

बिहार में गोपालगंज के एक छोटे से गांव से निकलकर मायानगरी मुंबई में अपनी धाक जमाने वाले पंकज त्रिपाठी ने कभी नहीं सोचा था कि वो आज इस मुकाम तक पहुंच पाएगें।

कभी अंधेरी में घूम कर लोगों से काम मांगने वाले एक्टर आज जब पर्दे पर होते हैं, तो दर्शकों की नज़र सिर्फ और सिर्फ उन्हीं पर टिकी होती है। फैंस उनकी लाजवाब एक्टिंग और शानदार डॉयलॉग डिलीवरी के कायल हैं ।

 

कहते हैं कि,हुनर छुपाए नहीं छुपता। अगर आप में प्रतिभा है तो वो एक ना एक दिन सामने आ ही जाती है। ठीक इसका उदाहरण पंकज त्रिपाठी हैं जिन्हें इस मुकाम तक पहुंचने के लिए कितने संघर्षों का सामना करना पड़ा।

 

 

अपने संघर्ष के दिनों को याद करते हुए पंकज त्रिपाठी ने बताया था कि, उनकी जिंदगी में एक वो वक्त भी था जब उनकी जेब बिल्कुल खाली थी और उनके घर का खर्च उनकी पत्नी की तनख्वाह से चलता था। न सिर्फ घर का खर्च बल्कि पंकज अपना जेब खर्च भी पत्नी से ही लेते थे। और काम के लिए अंधेरी में घूमते थे और लोगों से कहते थे कि, “कोई एक्टिंग करवा लो, कोई एक्टिंग करवा लो।”

 

 

खुद एक इंटरव्यू में पंकज त्रिपाठी ने इस बात का खुलासा किया था पंकज ने बताया था कि,’ ईमानदारी से बताऊं तो मैंने साल 2004 से 2010 के बीच कुछ भी नहीं कमाया। मेरी पत्नी ही घर का सारा खर्च उठाती थी। मैं अंधेरी में घूमता था और लोगों से कहता था ‘कोई एक्टिंग करवा लो, कोई एक्टिंग करवा लो।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here