Bollywood:बहुत अच्छी फिल्म है शेरशाह ,सिद्धार्थ मल्होत्रा ने निभाया दमदार किरदार

NEWSTODAYJ_Bollywood:आप जब शेरशाह देखकर उठते हैं तो लगता है कि ये फिल्म तो सिनेमा हॉल में रिलीज होनी चाहिए थी। साथ ही आप ये सोचते हैं कि ये फिल्म थोड़ी और लंबी होती तो विक्रम बत्रा की जिंदगी के बारे में कुछ और पता चल पाता। देखा जाए तो युद्ध पर बनी बेहतरीन फिल्मों में से एक है शेरशाह। साल 2021 में अब तक रिलीज में फिल्मों में से इसे आप बेस्ट कह सकते हैं।

परमवीर चक्र विजेता विक्रम बत्रा का किरदार निभाकर सिद्धार्थ मल्होत्रा ने अपने सुस्त चल रहे फिल्मी करियर में जान फूंक दी है। एक्टर ने बहुत शानदार काम किया है। ये फिल्म विक्रम बत्रा के करगिल युद्ध में पराक्रम के साथ -साथ पारिवारिक जिंदगी और डिंपल चीमा के साथ प्रेम कहानी भी दिखाती है। फिल्म का अंत इतना दमदार और भावुक कर देने वाला है कि आप रो पडेंगे।

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06
यह भी पढ़े…..Bollywood: एक्ट्रेस करीना कपूर फिट बॉडी के लिए जिम में पसीना बहाती नजर आई,

बांध कर रखती है कहानी

 

सिद्धार्थ मल्होत्रा ने फिल्म में डबल रोल किया है। एक किरदार विक्रम बत्रा का है और दूसरा रोल उनके भाई विशाल बत्रा का है। विशाल बत्रा फिल्म के नरेटर हैं। अपने परनवीर चक्र विजेता भाई की कहानी वो सुनाते हैं। फिल्म शुरू होती है करगिल जंग से । दुश्मन से काफी करीब पहुंच चुके विक्रम बत्रा जब ये साहस भरा फैसला लेते हैं। पाकिस्तानी घुसपैठियों पर सामने से धावा बोलने का। उनके साथी कह रहे हैं कि हम सब मारे जाएंगे लेकिन उन्हें जान की परवाह नहीं, लक्ष्य घुसपैठियों का खात्मा करना है।… इसके बाद कहानी उनके बचपन पर जाती है और इसका मकसद ये दिखाना था कि विक्रम बत्रा जब छोटे थे तब भी दिलेर थे, तभी सोच लिया था कि आर्मी ज्वाइन करके देश की सेवा करेंगे। फिर उनके कॉलेज की कहानी, प्रेमिका डिंपल चीमा से शादी करने के लिए मर्चेंट ने्वी ज्वाइन करने का फैसला और आखिरकार आर्मी ज्वाइन कर अपने बचपन का सपना पूरा करते हैं। कश्मीर पोस्टिंग के दौरान विक्रम बत्रा ने कैसे एक खूंखार आंतकी और उसके साथियों का एनकाउंटर किया ये भी दिखाया गया है।

कैसे वो अपने जोश, चार्म और प्यार से लोगों का दिल जीत लेते थे ये आपको फिल्म देखने पर पता चलेगा। पूरी मूवी का सबसे दिलचस्प हिस्सा है कारगिल वार। विक्रम बत्रा पूरे जोश के साथ टीम को लीड करते हैं और दुश्मन के कब्जे से दो अहम प्वाइंट वापस छीन लेते हैं । प्वाइंट 4875 पर साथी की जान बचाते हुए उन्हें दुश्मन की गोली लग जाती है। अपनी जान देकर भी विक्रम बत्रा ने जीत हासिल किया और देश के हीरो बन गए। फिल्म के आखिर में विक्रम बत्रा के अंतिम संस्कार का सीन आपको रोने पर मजबूर कर देगा, आंखों से आंसू बहने लगते हैं। तब आप सोचते हैं देश का असली हीरो तो ये था।

 

कमाल कर गए सिद्धार्थ मल्होत्रा

 

सिद्धार्थ मल्होत्रा के लिए विक्रम बत्रा का किरदार निभाना आसान नहीं था लेकिन उन्होंने फिल्म के लिए बहुत मेहनत की और यही वजह है कि आज जब उन्हें पर्दे पर देखते हैं तो ऐसा महसूस करते हैं कि आप विक्रम बत्रा को देख रहे हैं। युद्ध वाले सीन्स में उनका बेस्ट निखरकर आता है। इस फिल्म से यकीनन उनका करियर परवान चढ़ेगा। सिद्धार्थ ने साबित कर दिया है कि वो जबरदस्त एक्टर हैं। कियारा आडवाणी ने भी अच्छा काम किया है। वो बहुत खूबसूरत भी दिखीं है। कैप्टन संजीव जामवाल के रोल में शिव पंडित बहुत प्रभावित करते हैं। निकितन धीर मेजर अजय सिंह जसरोटिया के रोल में जंचे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here