• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Ahmed Patel Passes Away : पीएम मोदी ने अहमद पटेल के निधन पर जताया शोक, बेटे फैजल से की बात…

1 min read

Ahmed Patel Passes Away : पीएम मोदी ने अहमद पटेल के निधन पर जताया शोक, बेटे फैजल से की बात…

NEWSTODAYJ नई दिल्लीः कांग्रेस के ‘चाणक्य’ माने जाने वाले अहमद पटेल के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी शोक जताया है। पीएम मोदी ने अहमद पटेल के निधन पर ट्विटर के जरिए शोक जाहिर करते हुए लिखा है कि ‘अहमद पटेल जी के निधन से दुखी हूं। उन्होंने सार्वजनिक जीवन में कई साल समाज की सेवा में बिताए। अपने तेज दिमाग के लिए जाने जाने वाले अहमद पटेल को कांग्रेस पार्टी को मजबूत करने में उनकी भूमिका हमेशा याद की जाएगी।

यह भी पढ़े…26/11 Mumbai Terrorist Attack : इजराइल में 26/11 हमले में मारे गए लोगों की याद में बनेगा स्मारक…

उनके बेटे फैजल से बात की है और संवेदना व्यक्त की. अहमद भाई की आत्मा को शांति मिले।’ इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने अहमद पटेल के बेटे फैजल से बात भी की।आपको बता दें कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल (Ahmed Patel) का निधन हो गया है। 71 साल के अहमद पटेल (Ahmed Patel Death) पिछले एक महीना से कोरोना से संक्रमित थे। उनका गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में इलाज चल रहा था, लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद उन्हें नहीं बचाया जा सका। अहमद पटेल ने वर्षों तक सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार के तौर पर काम किया और माना जाता है।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : ई-समाधान पोर्टल पर 23 शिकायतें हुई दर्ज…

कि वह उनके द्वारा लिए गए हर महत्वपूर्ण निर्णय का हिस्सा थे। अहमद पटेल कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव थे। वे एकमात्र ऐसे व्यक्ति थे, जिनका 10 जनपथ में सीधा आना-जाना था। वे सोनिया-राहुल के वफादार होने के साथ ही पार्टी में सबसे कद्दावर राजनेता भी थे। कांग्रेस आलाकमान के निर्देशों और संकेतों को उन्हीं के जरिए दूसरे बड़े नेताओं तक पहुंचाया जाता था।अहमद पटेल तीन बार लोकसभा के सदस्य रहे हैं।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : जिला आपूर्ति पदाधिकारी ने ऑन-द-स्पॉट बनया मुनाका देवी का राशन कार्ड…

5 बार राज्यसभा के सांसद रहे। अहमद पटेल पहली बार 1977 में 26 साल की उम्र में भरूच से लोकसभा का चुनाव जीतकर संसद पहुंचे थे। वे 1993 से राज्यसभा सांसद थे। अगस्त 2018 में उन्हें कांग्रेस पार्टी का कोषाध्याक्ष नियुक्त किया गया था। हमेशा पर्दे के पीछे से राजनीति करने वाले अहमद पटेल कांग्रेस परिवार के विश्वस्त नेताओं में गिने जाते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.