23 July 2024

NEWSTODAYJ : दिल्ली सरकार में कैबिनेट मंत्री आतिशी ने मंगलवार को प्रेस वार्ता कर आबकारी नीति मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के एक्शन को लेकर कई सवाल उठाए हैं।उन्होंने कहा कि ईडी के पास कोई पुख्ता सबूत नहीं है। आम आदमी पार्टी को चुप कराने के लिए ईडी हमारे नेताओं के घर पर छापे मार रही है, लेकिन हम चुप बैठने वाले नहीं हैं।

Ad Space

उन्होंने दावा किया कि ईडी की छापेमारी में एक रुपया भी बरामद नहीं हुआ है।

आतिशी ने कहा कि ईडी को कथित आबकारी घोटाले में दो साल की की जांच में अभी तक कुछ भी साक्ष्य नहीं मिले हैं। यह पूरा का पूरा केस झूठ की नीव पर है, पूरा का पूरा फर्जीवाड़ा है। यह केस केवल गवाही पर बनाया गया है। गवाही दबाव बनाकर दिलवाई गई है,

लोगों को धमकाकर डराकर गलत बयान दिलवाए गए। कुछ लोग सामने आए हैं जिन्होंने कहा कि उन्हें डराया गया है और धमकाया गया है।कुछ दिन पहले एक आरोपी ने सीसीटीवी फुटेज मांगी कि उन्होंने जो बयान दिया था कि जो बयान दिया था वह सभी के सामने लाया जाए। आरोपी ने कहा कि उन्होंने जो बयान दिया था वह जमा कराए गए उनके बयान से अलग है। मगर कोर्ट के आदेश पर जो सीसीटीवी फुटेज जमा कराई गई, उसमें आवाज नहीं थी।

उन्होंने सवाल उठाया कि ऑडियो रिकॉर्डिंग डिलीट कर ईडी किसे बचाना चाहती है।

आतिशी ने ईडी को चुनौती दी है कि ईडी ने अभी तक जो भी जांच की है, बयान लिए हैं, उसकी रिकॉर्डिंग सामने लाई जाए। दूध का दूध पानी का पानी सामने आ जाएगा।उन्होंने कहा कि आज मैं ईडी के घोटाले पर पर्दा उठाने वाली थी, उससे ईडी डरी हुई थी और पता कर रही थी कि वह क्या पर्दा उठाने वाली हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि इससे घबराई ईडी ने आज आम आदमी पार्टी के कई लोगों के यहा आज छापेमारी की है। मुख्यमंत्री के पीए के यहां छापेमारी की जा रही है।पार्टी के कोषाध्यक्ष के पीए के यहां तक छापेमारी की जा रही है।

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"