• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

कोरोना को लेकर बड़ा सवाल क्या मच्छर के काटने से भी फैलता है कोरोना-जाने रिसर्च में क्या निकला…

1 min read

कोरोना को लेकर बड़ा सवाल क्या मच्छर के काटने से भी फैलता है कोरोना-जाने रिसर्च में क्या निकला…

  • मच्छर काटने से कोरोना के संक्रमण का कोई खतरा नहीं हैl
  • WHO ने भी कहा है कि ठंड के मौसम का कोरोना वायरस से कोई लेना देना नहीं हैl

NEWSTODAYJ –  कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलने को लेकर लोगों के मन में कई तरह के भ्रम और सवाल उठते रहते हैंl परन्तु हर सवाल का जवाब बिना रिसर्च और तथ्य के आधार पर नहीं दिया जा सकता हैl अभी भी इस जानलेवा खतरनाक वायरस को लेकर दुनिया भर में कई जगह रिसर्च किए जा रहे हैंl और जिस तरह से रिसर्च से परिणाम सामने आ रहे है लोगों तक नई-नई जानकारियां आ रही हैंl इन्ही सब सवालों में से एक सवाल जो पिछले कई महीनों से लोग ये जानना चाह रहे थे कि क्या मच्छरों के काटने से भी एक दूसरे में कोरोना का संक्रमण फैलता है? अब रिसर्च में पता चला है कि मच्छर काटने से कोरोना के संक्रमण का कोई खतरा नहीं हैl हालांकि इस साल मार्च में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी यहीं बात कही थीl

ये भी पढ़े- जनता दरबार की परम्परा को आगे बढ़ाते हुए अब प्रत्येक सप्ताह के मंगलवार एवं शुक्रवार को लोगों से रूबरू होंगे धनबाद उपायुक्त

इसके साथ ही अमेरिका के कैनसस यूनिवर्सिटी ने मच्छरों को लेकर रिसर्च कियाl इसकी रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना फैलाने वाला SARS-CoV-2 वायरस मच्छरों के काटने से नहीं फैल सकता हैl वैज्ञानिकों ने मच्छर की तीन प्रजातियां एडीज एजिप्टी, एडीस अल्बोपिक्टस और क्यूलेक्स क्विनकैफैसिअसस पर रिसर्च कियाl मच्छर के ये तीनों प्रकार चीन में मौजूद है और चीन से ही कोरोना की शुरुआत हुई थीl

ये भी पढ़े-बालूमाथ थाना पुलिस ने 72 घंटे के भीतर चोरी मामले का किया उद्भेदन, तीन गिरफ्तार

इसके अलावा विभिन्न मौसम को लेकर भी कई तरह के सवाल पर WHO ने भी कहा है कि ठंड के मौसम का कोरोना वायरस से कोई लेना देना नहीं हैl ये लोगों का मिथ है कि मौसम नए कोरोना वायरस या अन्य बीमारियों को मार सकता हैl COVID-19 वायरस गर्म और उमस वाले वातावरण सहित सभी क्षेत्रों में फैलता हैl डब्ल्यूएचओ ने कहा कि अगर आप कहीं जाते हैं तो सुरक्षात्मक उपाय अपनाएं.l COVID-19 से बचने का सबसे अच्छा तरीका हैl  अक्सर अपने हाथों की सफाई करेंl ऐसा करने से आप अपने हाथों पर लगने वाले संक्रमण को खत्म कर सकते हैं और इससे बच सकते हैंl

Leave a Reply

Your email address will not be published.