22 February 2024

NEWSTODAYJ / धनबाद डेस्क / (यह एक गोपनीय सूचना के द्वारा लिखी गई एक पहलू है।) झारखंड राज्य में 28 दिसंबर 2014 को एक ऐसा सरकार बना था की राज्य के सभी जिले में राशनकार्ड,ऑनलाइन सुबिधा,जनधन योजना अन्य कई योजनाएं धरातल पर लागू करते हुए अधिकारियों को सख्त चेतावनी देते हुए योजनाओं से जोड़ने के लिए आम जनता को प्रेरित किया गया।

Ad Space

साथ ही सड़क,शौचालय,पानी,उज्ज्वला,अन्य कई योजना धरातल पर बाखूबी हर गरीब तक पहुचाया गया।

तथा सड़क की चौड़ीकरण, सड़क के किनारों में स्टिक लाइट जैसे कई योजनाएं धरातल पर उतरते हुए हर आम नागरिकों को अपना गवाह बना लिया ओर पूरे जिले में प्रकाश राज्य का योजना लागू करते हुए रोशन कायम किया पर 29 दिसंबर 2019 को एक ऐसी सरकार बना कि सरकार के राज्य में अंधेरा कायम है

इसका पुख़्ता गोपनीय सबूत है गोपनीय तरीके से आम नागरिक गवाह भी हैं।कुछ तस्वीरे www.newstodayjharkhand.com के पास भी है।तस्वीर और आम नागरिक का बयान आप देख कर बोलेंगे की वाकई में तत्कालीन सरकार में अंधेरा कायम के साथ संघर्ष कारी भी है।इस सरकार में संघर्ष और मुख्यालय में सरकार डगमगाते हुए गिर गई।लेकिन अब नई सरकार बनी है।अब देखिए क्या होता है।

न्यूज़ टुडे झारखंड के टीम स्वयं संघर्ष किये थे।आगे पढ़ने के लिए बने रहें, और पढ़ते रहे झारखंड की हर छोटी बड़ी खबर

(घटित समस्या)वर्ष 2016 में लाइटों से जगमग रहता था जिले का हर वह सड़क मार्ग इसका गवाह हम स्वयं है।एक बार हम यानी टीम के साथ खबर बना कर लौटत रहे थे रात करीबन साढ़े ग्यारह बज गया था। उसी समय मोटरसाइकिल का हेडलाइट खरब हो गया था।तो आधे किलोमीटर तक ही गए थे की सड़क किनारे लगे लाइट के मदद से हम धनबाद के बरवाअड्डा से अपना घर आये थे। करीबन 24 किलोमीटर सड़क के किनारे लगे लाइटों के मदद से घर आ गए थे।पर अब भय के साथ सड़क किनारे आवारा कुत्ते की डर लगता है।क्योंकि अंधेरा हर ओर यानी चारो ओर कायम है।

सूचना : यह खबर किसी पार्टी बेसिक नही है।यह सिर्फ सरकार के विषय मे एक सच्चाई के साथ आम नागरिकों का एक गोपनीय सूचना है।इसमें आप भी सूचना दे सकते है।(newstodayjharkhand@gmail.com)

"लगातार धनबाद के ख़बरों के लिए हमारे Youtube चैनल को सब्सक्राइब करे"