• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

सब्ज़ी विक्रेता ने रस्सी से झूलकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली , इधर आत्महत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया…

1 min read

NEWSTODAYJ धनबाद : चिरकुंडा थाना क्षेत्र के नूतनग्राम में 40 वर्षीय सब्ज़ी विक्रेता श्रीकांत मंडल ने अपने कमरे में रस्सी से झूलकर अपनी इहलीला समाप्त कर ली। घटना की खबर पाकर चिरकुंडा पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को कब्ज़े में कर पोस्टमार्टम के लिए धनबाद भेज दिया है। इधर आत्महत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है।जानकारी के अनुसार बीती रात्रि करीब आठ बजे मृतक श्रीकांत मंडल सब्जी की फेरी कर घर लौटा और सीधे अपने कमरे में चला गया। अंदर से दरवाज़े की छिटकनी लगा लिया।

यह भी पढ़े…

जेल में बंद 3 कैदी कोरोना पोजेटिव पाए जाने से दहशत का मौहाल…

जब देर रात तक वह अपने कमरे से बाहर नहीं निकला तो घरवालों ने आवाज़ लगाया किसी तरह का कोई जवाब न मिलता देख घरवाले बेचैन हो उठे और दरवाज़ा को तोड़ा तो देखा कि वह रस्सी से झूला पड़ा है। परिवार वालो ने इसकी सूचना चिरकुंडा पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को कब्ज़े में कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। अब पुलिस ये पता लगाने में जुट गयी है कि मृतक की मौत के पीछे आखिर कारण क्या है।मृतक के परिजन ने बताया कि वह पहले गुजरात में काम करता था।लॉकडाउन से पूर्व यहाँ आया था.

यह भी पढ़े…

ACB के टीम ने पंचयात सेवक को 12000 हजार घुस लेते रंगे हाथ पकड़े…

सब्ज़ी बेच कर अपने परिवार का भरण पोषण करता था। कल रात आठ बजे घर लौटा और सीधे अपने कमरे में चला गया और अंदर से छिटकनी लगा ली। जब देर रात तक कमरे से नहीं निकला तो आवाज़ लगाया कोई जवाब नहीं मिला तो दरवाज़ा तोड़ डाला। अंदर देखा तो वह रस्सी से झूला पड़ा है। मौत का कारण नहीं जानता हूँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.