राज्य:यदि भगवान ने हमें इंसान बनाया है,तो हमारा फ़र्ज़ बनता है कि हम अपनी यथाशक्ति दूसरे की मदद करे।”- दीपू तिवारी

0

राज्य:यदि भगवान ने हमें इंसान बनाया है,तो हमारा फ़र्ज़ बनता है कि हम अपनी यथाशक्ति दूसरे की मदद करे।”- दीपू तिवारी

 

NEWSTODAYJ_मुंबई: भारतीय जनता युवा मोर्चा घाटकोपर प. विधानसभा द्वारा अभी हॉल में विभाग की जनता को महात्मा ज्योतिबा फुले एवंम प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत गोल्ड का कार्ड का वितरण किया गया। इस अवसर पर समाजसेवक व भारतीय जनता युवा मोर्चा घाटकोपर प. विधानसभा महामंत्री दीपू विनोद तिवारी से मुलाकात हुई। जोकि उत्तरप्रदेश के भदोही रहनेवाले है और पिछले पांच साल से भारतीय जनता युवा मोर्चा घाटकोपर प. विधानसभा महामंत्री की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। युवामोर्चा में काम करते हुए उन्होंने बहुत सारी समस्या उठाई। कई बार आंदोलन भी किए, जेल भी जाना पड़ा। ऐसा माना जाता हैं कि उनकी युवाओं में काफी अच्छी पकड़ हैं और एक उत्तर भारतीय चेहरे के रूप में जाना जाता है।

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

यह भी पढ़ें…Politics News: एलजेपी में हुआ बड़ा विवाद, चिराग पासवान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चाचा पर किया पलटवार

२४ वर्षीय युवा दीपू तिवारी ने सरस्वती कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, खारघर से इलेक्ट्रॉनिक एंड टेलेकम्युनिकेशन इस ब्रांच में इंजीनिरिंग की हैं। अपने कॉलेज में वे ‘यंग इन्स्पिरेटर्स नेटवर्क’ इसके अध्यक्ष भी रह चुके हैं। जब वे अध्यक्ष तब उन्होंने विद्यार्थियों के लिए कई प्रोग्राम किए थे। उन्होंने बहुत ही कम समय मे बहुत ज्यादा उपलब्धि हासिल किया है। इन्होने सिर्फ १६ वर्ष की उम्र में अखिल भारतीय विद्यर्थि परिषद (ABVP) में जुड़ गए। अबीवीपी में जुड़ने के बाद उन्होंने छात्रों के लिए कई कार्यक्रम किए। जिसमें लड़कियों के लिए सेल्फ डिफेंस का कार्यक्रम हो या हर वर्ष युवाओं के करियर के लिए करियर गाइडेंस सेमिनार हो।उन्होंने और उनकी टीम ने अनाथ बच्चों के लिए ४१ हज़ार रुपया डोनेट किया था।

दीपू तिवारी वार्ड 123 प्रभाग में निरंतर सक्रिय भी रहते हैं। वे कहते है,” कोरोना काल में मैं और मेरी टीम गरीबों को निरंतर खाना बना के खिलाना हो, लोगों को गांव भेजना हो या इलाज सम्बन्धी समस्या दूर करना हो हमलोग मिलकर उसे करते है। हमलोग जनता की सभी समस्याओं को दूर करने का प्रयास करते है। यदि भगवान ने हमें इंसान बनाया है,तो हमारा फ़र्ज़ बनता है कि हम अपनी यथाशक्ति दूसरे की मदद करे। “

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here