• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

रांची: झारखंड में टीकाकरण की गति धीमी,पूरी आबादी को टीकाकरण करने में लग जाएंगे कई साल

1 min read

रांची: झारखंड में टीकाकरण की गति धीमी,पूरी आबादी को टीकाकरण करने में लग जाएंगे कई साल…

 

NEWSTODAYJ_रांची:झारखंड में टीकाकरण की रफ्तार धीमी है. इस कारण एक बड़ी आबादी आज भी इससे दूर है. झारखंड सरकार के पास उपलब्ध मानव संसाधन, उपकरण और टीकाकरण केंद्र को देखते हुए एक दिन में 2.46 लाख लोगों को टीका दिया जा सकता है. इसकी तुलना में प्रतिदिन औसतन 35 से 38 हजार लोगों को ही टीका दिया जा रहा है.

 

 

विशेषज्ञ बताते हैं कि टीके की कमी के कारण ऐसा हो रहा है. मांग के अनुरूप केंद्र टीके की कम आपूर्ति कर रही है. विशेषज्ञों का आकलन है कि झारखंड के पास उपलब्ध संसाधनों को देखते हुए यदि क्षमता के अनुरूप रोज 2.46 लाख लोगों को टीका लगे, तो मात्र 156 दिन यानी पांच माह में राज्य की पूरी आबादी का टीकाकरण हो जायेगा. अभी जो टीकाकरण (35 हजार प्रतिदिन) की रफ्तार है, उस हिसाब से 1102 दिन अर्थात तीन साल लग जायेंगे.

 

यह भी पढ़ें…रांची: रांची में होगा मोबाइल वैक्सीनेशन, स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने की इसकी शुरुआत

1461 सेंटर में दिया जा रहा टीका

राज्य के 221 स्थानों के 1461 सेंटर में अभी टीका दिया जा रहा है. इनमें 18 प्लस के लिए 397 केंद्र हैं. इसकी क्षमता 55780 लोग प्रतिदिन है. जबकि 45 प्लस के लिए 1064 केंद्र है, जिसकी क्षमता 190750 है. यानी पूरी क्षमता से सभी केंद्रों में टीकाकरण हो तो प्रतिदिन 2.46 लाख को टीका दिया जा सकता है.

 

क्या है टीकाकरण की स्थिति :

राज्य में 16 जनवरी 2021 से टीकाकरण आरंभ हुआ है. पहले स्वास्थ्य कर्मी, फिर फ्रंटलाइन वर्कर और अप्रैल से 45 प्लस का टीकाकरण आरंभ हुआ. इनका टीका केंद्र सरकार देती है. एक मई से 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों के लिए भी टीकाकरण आरंभ हुआ. इनका टीका राज्य सरकार अपने पैसे से खरीदती है. हालांकि पैसा देने के बावजूद मांग की तुलना में टीका की आपूर्ति में काफी अंतर है.

अनुमानित आबादी 3.86 करोड़

इस कारण इस आयु वर्ग का टीकाकरण धीमी गति से हो रहा है. राज्य में एक जून तक सभी वर्गों को कुल 35 लाख 19 हजार 747 को टीका लग चुका है. राज्य की वर्ष 2021 में अनुमानित आबादी 3.86 करोड़ है. इनमें 45 प्लस की आबादी 83 लाख 86 हजार 677 है. वहीं 18 प्लस की आबादी एक करोड़ 57 लाख 34 हजार 635 है, जबकि 18 वर्ष से कम आयु के 1.45 करोड़ बच्चे हैं.

 

18 प्लस की बड़ी आबादी का धीमी गति से हो रहा टीकाकरण : राज्य में 18 प्लस की संख्या ज्यादा है, लेकिन इस आयु वर्ग के टीकाकरण की गति बहुत धीमी है. 14 मई से आरंभ हुए 18 प्लस के टीकाकरण के तहत अबतक 5.52 लाख का ही टीकाकरण हो सका है. अभी भी यानी एक जून तक इस आयु वर्ग के लिए मात्र 79800 डोज बचा हुआ है. कम डोज होने के कारण कई जिलों में कई सेंटर बंद कर दिये गये हैं.

 

अभी भी ग्रामीण इलाकों में है भ्रांति :

राज्य के ग्रामीण इलाकों में अभी टीका को लेकर तरह-तरह की भ्रांतियां है. इस कारण लोग टीकाकरण कराने नहीं आते हैं. हालांकि सरकार द्वारा लगातार लोगों को जागरूक करने का प्रयास किया जा रहा है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी लोगों से लगातार टीका लेने की अपील कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.