मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना को लेकर विशेष पंचायत सभा का आयोजन 26 से 28 अगस्त तक।

गढ़वा।

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना को लेकर विशेष पंचायत सभा का आयोजन 26 से 28 अगस्त तक।

(संवाददाता-विवेक चौबे)
गढ़वा। उपायुक्त के निर्देश पर कांडी प्रखण्ड के सभी पंचायतों में 26 से 28 अगस्त तक मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के तहत किसानों से फॉर्म प्राप्त करने के लिए विशेष पंचायत सभा का आयोजन किया जाएगा। सीओ राकेश सहाय ने बताया कि यह पंचायत सभा सभी पंचायत भवन में आयोजित की जाएगी ।जिसमें संबंधित राजस्व कर्मी उस पंचायत के कृषक मित्र पंचायत सेवक उपस्थित रहेंगे । सभी किसानों से जो अभी तक मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के लाभ से वंचित हैं उनसे फॉर्म प्राप्त करेंगे ।उपायुक्त का सख्त निर्देश है कि एक भी योग्य लाभुक इस आशीर्वाद योजना से वंचित नहीं रहना चाहिए। इस पंचायत सभा में सभी मुखिया को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई है कि वह अपने अपने पंचायत के सभी किसानों को इस पंचायत सभा के आयोजन की जानकारी देंगे तथा अपने स्तर से यह सुनिश्चित करेंगे कि उनके पंचायत का कोई भी किसान जो मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का योग्य लाभुक है वह वंचित नहीं रहे। विदित हो कि अभी भी कांडी व मझिआंव के लगभग 8 हजार किसान मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के लाभ से वंचित है।इसको लेकर डीसी काफी सख़्त हैं और उन्होंने सभी पंचायतों मेंइसी माह के 26, 27 एवं 28तारीख को तिथि वार पंचायत सभा का विशेष आयोजन करके सभी किसानों से फॉर्म प्राप्त करने का निर्देश सभी अंचलों को दिया है। अंचलाधिकारी ने सभी किसानों से अनुरोध किया है कि वे इस पंचायत सभा में उपस्थित होकर अपना अपना फॉर्म राजस्व कर्मी को दें उन्हें अगर कोई विशेष परेशानी है तो वह सीधे अंचल अधिकारी से स्वयं मिल सकते हैं। अंचल अधिकारी ने सभी निर्वाचित जनप्रतिनिधियों मुखिया, पंचायत समिति सदस्य, वार्ड सदस्यों एवं जिला परिषद सदस्य से अनुरोध किया है कि वे मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का लाभ सभी किसानों तक पहुंचाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करें और यह सुनिश्चित करें कि उनके क्षेत्र का एक भी किसान इस योजना से वंचित नहीं रहे। सभी किसान अपना अपना खाता जरूर चेक करेंगे क्योंकि 10 अगस्त को मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना की पहली किस्त झारखंड सरकार द्वारा सीधे किसानों के बैंक खाते में जमा कर दी गई है ।यदि किसी किसान को प्रथम किश्त के रूप में प्रति एकड़ ₹5000 नहीं मिले हैं तो वे अपना फॉर्म भरकर पंचायत सभा में राजस्व कर्मी को दे दें ताकि उन्हें इस योजना का लाभ दिया जा सके।

NEWSTODAYJHARKHAND.COM

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here