• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

बिहार के खगड़िया के तेलिहर गांव से PM मोदी करेंगे ‘गरीब कल्याण रोजगार’ अभियान की शुरुआत-गांव लौटे प्रवासी को मिलेगा रोजगार

1 min read

बिहार के खगड़िया के तेलिहर गांव से PM मोदी करेंगे गरीब कल्याण रोजगारअभियान की शुरुआत-गांव लौटे प्रवासी को मिलेगा रोजगार

NEWSTODAYJ पटना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को बिहार के खगड़िया जिले के बेलदौर ब्लॉक के तेलिहर गांव से गरीब कल्याण योजना की शुरुआत करने जा रहे हैंl दरअसल, कोरोना संकट और लॉकडाउन के कारण विभिन्न राज्यों से अपने घर लौट चुके मजदूरों के लिए यह योजना शुरू की जा रही हैl  खास तौर पर बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, झारखंड और ओडिशा में मजदूरों की सबसे अधिक घर वापसी हुईl बिहार में तो 30 लाख से भी अधिक मजदूर अपने गांवों को लौटे हैंl ऐसे में उनके लिए रोजगार की कमी का संकट खड़ा हो गया हैl अब केंद्र सरकार ऐसे ही प्रवासी मजदूरों को इस योजना के तहत रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगाl

ये भी पढ़े…

बोकारो: वैश्विक महामारी के दौरान जिले के दवा विक्रेता संघ के द्वारा इस तरह का कार्य सराहनीय है- उपायुक्त…

इस मौके पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी भी मौजूद रहेंगेl  गौरतलब है कि केंद्र सरकार के अनुसार छह राज्यों के 116 जिले ऐसे हैं, जिनमें से हर जिले में कोरोना काल के दौरान शहरों से वापस होने वाले मजदूरों की संख्या 25,000 से ज्यादा हैंl इनमें बिहार के 32 जिले, जबकि उत्तर प्रदेश के 31 जिले शामिल हैंl तेलिहर गांव से इस अभियान की शुरुआत होने के समय खगड़िया डीएम,डीडीसी के साथ-साथ कई वरीय अधिकारी भी मौजूद रहेंगेl पीएम द्वारा शुरू किए जा रहे इस कार्यक्रम का मकसद कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के कारण घर लौटे प्रवासी मजदूरों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाना हैl

ये भी पढ़े…

पोल से जा टकराया बाइक सवार युवक हुआ गम्भीर रूप से घायल

50 हजार करोड़ रुपये की लागत से शुरू की जा रही इस योजना के तहत कामगारों को 25 प्रकार के काम दिये जायेंगेl सरकार का दावा है कि मजदूरों की स्किल मैपिंग की गई है और इससे 25 हजार प्रवासी मजदूरों को फायदा पहुंचेगाl मिली जानकारी के अनुसार यह अभियान 125 दिनों का है, जिसमें प्रवासी मजदूरों को रोजगार मुहैया कराने और देश के ग्रामीण क्षेत्रों में बुनियादी ढांचा खड़ा करने के लिए 25 अलग-अलग तरह के कार्यों किए जाएंगेl कोरोना संक्रमण को देखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए साझा सेवा केंद्रों और कृषि विज्ञान केंद्रों के जरिये इस कार्यक्रम में मजदूर शामिल होंगेl

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें