• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

नकली व मिलावटी मिक्सर उत्पादन फैक्ट्री में पुलिस का छापा…

1 min read

NEWSTODAYJ पलामू : नकली व मिलावटी सामानों के उत्पादन व बिक्री को लेकर छतरपुर हमेशा चर्चा में रहता है । नकली तेल – डालडा से लेकर मिक्सचर , चायपत्ती तक तो मिलावटी पेट्रोल तक क्षेत्र में धड़ले से बेचे जाने की खबरे आती रही है । खाद्य सुरक्षा व मिलावटखोरी से संबंधी इतने सख्त कानून होने के बावजूद भी अगर क्षेत्र में तेजी से ऐसे नकली व मिलावटी उत्पादों का धंधा फल फूल रहा है तो संभवतः ऐसे लोगो को यहां अनुकूल माहौल मिल रहा है या तो विगत मामलों पर कड़ी कार्रवाई ना होना भी इन्हे सह दे रही है कि ये अपनी पॉकेट भरने के लिए छतरपुर तथा आस पास के क्षेत्रों के लोगो के स्वास्थ्य से खिलवाड़ करते रहे । ऐसे मामलों को लेकर छतरपुर के गिने चुने दो चार बड़े कारोबारियों के नाम हमेशा से प्रकाश में आते रहे है ।
ऐसे धंधे इतनी चालाकी से चल रहे है कि अनपढ़ से लेकर पढ़े लिखे लोग भी आसानी से ठगे जा रहे है और ब्रांडेड कंपनियों के नाम पर मोटी रकम चुका नकली सामान घर लेकर अा जा रहे है । ब्रांडेड कंपनियों व पूर्व में ब्लैकलिस्टेड कंपनियों के रैपर में स्थानीय स्तर पर बने सामग्री भर कर बेचे जा रहे है.

यह भी पढे…

http://newstodayjharkhand.com/धनबाद-बच्चे-पर-पिस्टल-रख-11-ल/

छतरपुर में फिर एक बार नकली खाद्य सामग्री फैक्ट्री का भंडाफोड़ होने वाला है । फिलहाल छापामारी ने सारी बाते सामने आने के बाद भी फैक्ट्री संचालक को एक नोटिस थमा दस दिनों का समय दे दिया गया है आवश्यक कागजात व अपना पक्ष रखने हेतु । गुप्त सूचना के आधार पर खाद्य सुरक्षा निरक्षक मनोज कुमार के द्वारा छतरपुर के भव फैक्ट्री के समीप एक दो मंजिले मकान में छापामारी की गई । छापेमारी के दौरान फैक्ट्री में नामी गिरामी कंपनियों के रैपर में धड़ले से स्थानीय स्तर पर मिक्सचर और चाय भर कर ग्राहकों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ व महीनों से सरकारी राजस्व को लाखो रूपए का चूना लगाएं जाने का खुलासा हुआ । बताया जा रहा बगैर वैध कागजात के उक्त फैक्ट्री पिछले छह महीनों से संचालित थी ।

यह भी पढ़े…

जहर देकर महिला को मौत के घाट उतार , परिजनों ने जमकर हंगामा किया हॉस्पिटल मे परिजनों ने आरोप लगया ससुराल वालों पर…

छतरपुर थाने से करीब दो किलोमीटर दूर वीरान में संचालित ये अवैध फैक्ट्री एक पारा शिक्षक कंचन कुमारी के नाम से संचालित है जिनके नाम से नोटिस जारी की गई है । जिसकी देख रेख छतरपुर के ही रंजीत कुमार गुप्ता के द्वारा कि जाती थी ।इन सारे मामलों में फैक्ट्री को अब तक सिल नहीं किया गया है ना ही किसी तरह की मुकदमा दर्ज की गई है बरहाल उन्हें एक नोटिस थमा दिया गया है ।जांचकर्ताओं को जांच के क्रम में प्रसिद्ध हिमानी कंपनी के अधजले व बिना जले कुछ रैपर भी मिले है जिसकी तस्वीरे भी सामने आई है लेकिन इस बात का नोटिस में कोई जिक्र नहीं किया गया है ।
वहीं मिक्चर का रैपर NAVRITI नामक कंपनी का है । रैपर पर कंपनी का पता रांची-पटना रोड, दुधियामाटी, कोडरमा है । रैपर पर कस्टमर केयर का फोन नंबर 6201336607 नंबर अंकित है । फोन करने पर फोन कोई ललिता कुमारी नामक महिला उठाती हैं जो खुद को झुमरी तिलैया, कोडरमा की रहने वाली बतातीं हैं । ललिता का कहना था कि अमित कुमार गुप्ता उनका दूर का रिश्तेदार है जिसकी नवरिती नामक मिक्चर बनाने वाली कंपनी थी जो एक साल पहले पूरी तरह बंद हो चुकी है ।

यह भी पढ़े…

रांची : बाघमारा BJP विधायक ढुल्लू महतो की याचिका पर सुनवाई , 2 सप्ताह में दफ़्तवेज सौपने का आदेश…

जैसा कि इस संबंध में सरकारी विज्ञापनों के माध्यम से लोगो को जागरूक भी किया जाता रहा है कि खाद्य सामग्री के असलियत की पहचान उसके fssai नंबर से होती है । fssai ही यह प्रमाणित करता है कि आप जो खा रहे हैं, उसकी गुणवत्ता कैसी है । हमने असलियत जानने के लिए NAVRITI का fssai नंबर को ऑनलाइन वेरिफाई किया तो पाया कि इस कंपनी का लाइसेंस 22 जनवरी 2019 को ही एक्सपायर हो चुका है और छतरपुर के उक्त व्यक्ति द्वारा बंद हो चुके कंपनी के रैपर में मिक्चर भरकर लोगों को बेवकूफ बनाकर बेचा जा रहा है । यह स्थिति न सिर्फ धोखाधड़ी की थी बल्कि fssai के संबद्ध कानून के उल्लंघन की भी थी जिसकी बावत संबद्ध व्यक्ति पर सीधे धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज होता । लेकिन फूड सेफ्टी इंस्पेक्टर ने संबद्ध व्यक्ति को संबद्ध लाइसेंस दिखाने के लिए पूरे 10 दिन की लिखित मोहलत दी । संबद्ध व्यक्ति द्वारा बेचे जा रहे कंचन चाय के रैपर पर भी fssai का गलत या फर्जी नंबर अंकित है।पिछले कई महीनों में उक्त फर्जी कंपनियों के उत्पाद छतरपुर सहित आस पास के हरिहरगंज , हुसैनाबाद तक भी करीब हर दुकान में उपलब्ध करा दिए गए है।हांलाकि फूड सेफ्टी इंस्पेक्टर मनोज कुमार ने आश्वस्त किया है कि इस फर्जीबाड़ा में दोषी पर निश्चित रूप से कार्रवाई होगी । हमें इस बात का इंतजार है कि अपनी बातों को सच साबित करने के लिए वह कौन से तथ्यों का उपयोग करता है।तब तक जनता को और अधिक जागरूक होना होगा कि आस पास में यदि ऐसा कही उत्पादन हो रहा है तो इसकी पुष्टि अवश्य कर ले और प्रशाशन को इसकी जानकारी दे साथ ही सिर्फ ब्रांडेड कंपनियों के पैकेट देख कर ही अगर आप खरीदारी कर रहे है तो फिर भी आपको सतर्क रहने की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.