नए साल का दिखने लगा असर

न्यूड टुडे।

 मैथन डैम  का आकर्षक नजारा ।

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

छोटे खान।

पिकनिक की मस्ती में डूबे सैलानियों पर टूट सकता है गमो का पहाड़ कैसे जानिए

धनबाद । नये साल की  मस्ती में अभी से हीं   धनबाद कोयलांचल  के युवा भी डूबने लगें है ।महत्वपूर्ण पिकनिक स्थलों पर शैलानियों का पहुँचाना शुरू हो गया हैं ।पिकनिक की मस्ती में बोटिंग करवाने वाले नाविक लाइफ जैकेट का इस्तेमाल न खुद कर रहे हैं और न ही सभी सैलानी ।ऐसे में कभी भी नाव हादसा होने पर या किसी स्पीड बोट के पलटने पर अनहोनी से इंकार नही किया जा सकता है।

गंदगी भी है बड़ी मुसीबत

दामोदर घाटी निगम के सौजन्य से निर्मित  मैथन डैम पर अभी से हीं  शैलानियों की पिकनिक की मस्ती शुरू है क्या युवा क्या वृद्ध और क्या बच्चे सब के सब नये साल की मस्ती को यादगार  बनाने के लिए मैथन डैम पहुँचने लगे हैं लेकिन एक महत्वपूर्ण बात यह की नये साल की मस्ती की तयारी तो अपने अंतिम पड़ाव पर है वन्ही पिकनिक के लिए पहुँचने वाले युवा पर्यटकों को गंदगी और  सुरक्षा और को लेकर चिंता बरक़रार है  । हालाँकि जिला प्रशासन ने साफ सफाई और व्यापक सुरक्षा के इंतजामात किये जाने की बात कही है ।

प्रकृति और आधुनिक विज्ञान का अद्भुत नजारा दीखता है यहाँ
ये खुबसूरत नजारा देश की कोल केपिटल धनबाद के मैथन डैम का है नये साल की मस्ती में युवाओं को मदमस्त कर देने के लिए पुरी  तरह तैयार इस डैम में यु तो सालों भर पर्यटकों का आना जाना लगा रहता है लेकिन जब बात नये साल की हो तो धनबाद हीं नही देश के अलग अलग प्रान्तों में हजारो नही लाखों की संख्या में यंहा पिकनिक मानाने और नये साल की रूमानी यादों को यादगार बनाने के चाह  में आना नही भूलतें ।ऐसे में हमने बात की कुछ सैलानियों से तो उनका कहना था की प्राक्रतिक के गोद में बसा और खूबसूरती से संवारा गया यह डैम।

झारखण्ड-बिहार,बंगाल तथा अन्य राज्यो से लोग पहुँचते है यहाँ

  यंहा झारखण्ड -बिहार ,पश्चिम बंगाल आदि अन्य जगहों से लोग पिकनिक करने के लिए आते है।लोगों का कहना है की यहाँ आकर हर बार मस्ती करने को जी चाहता है ।यंहा आने वाले शैलानी इसं डैम की खुसुरती की तारीफ करते नही थकतें ।मैथन में नये साल की मस्ती को आने वाले युवाओं में गंदगी को लेकर नाराजगी है ।लेकिन सरकार के द्वारा चलाये जा रहे स्वच्छ भारत अभियान के कारण इनमे इतनी समझ तो आ ही गयी है की गंदगी और असुरक्षा के लिए यहां आने वाले सैलानी खुद जिम्मेवार हैं डैम को साफ रखने में इन्हें अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी होगी तभी इसकी प्राकृतिक सुंदरता का भरपूर आनंद लिया जा सकता है।

न्यूज़ टुडे आप को रखे आप के आस पास के खबरो से रूबरू।।newstoday jharkhand@gmail.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here