• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

स्कूल वैन संचालकों की हड़ताल से अभिभावक परेशान, कहा-बच्चों की सुरक्षा से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं करेंगे।

1 min read

धनबाद।

स्कूल वैन संचालकों की हड़ताल से अभिभावक परेशान, कहा-बच्चों की सुरक्षा से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं करेंगे।

धनबाद। धनबाद में आज स्कूल वैन संचालकों की हड़ताल है। इस हड़ताल के कराण बच्चों और अभिभावकों की परेशानी बढ़ गई है। बताते चलें कि हड़ताल की वजह से आज एक भी स्कूल वैन सड़क पर नजर नहीं आये। वहीं हड़ताल की वजह से बाइक और अन्य साधनों से अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल छोड़ने पहुंचे। कुछ अभिभावकों ने स्कूल वैन संचालकों की हड़ताल को जायज ठहराया तो कुछ ने बच्चों की सुरक्षा का हवाला देते हुए प्रशासन के आदेश को सही ठहराया है। जिले के कार्मिक नगर स्थित डीपीएस में अपने बच्चे को पहुंचाने आए दिलीप सिंह ने कहा कि सब काम छोड़कर बच्चे को स्कूल पहुंचाना पड़ रहा है. अब तो ऐसा लगता है कि हमारा ऑफिस छूटेगा या फिर बच्चों का स्कूल. वैन संचालकों की हड़ताल को उन्होंने जायज ठहराया है, उन्होंने कहा कि इतने दिनों से वैन के ड्राइवर के भरोसे ही बच्चे घर से स्कूल आना जाना करते हैं. संजीव रंजन ने प्रशासन के आदेश को सही ठहराया और कहा कि प्रशासन के आदेश के कारण वैन संचालकों की हुई हड़ताल से थोड़ी परेशानी जरूर बढ़ी है लेकिन बच्चों की सुरक्षा से खिलवाड़ बिल्कुल भी ठीक नहीं है. स्कूल वैन को कॉमर्शियल रजिस्ट्रेशन कराने पर उन्होंने आपत्ति जतायी है। एक अन्य अभिभावक ने वैन संचालकों की हड़ताल को गलत ठहराया है. उन्होंने कहा स्कूल वैन कॉमर्शियल होना चाहिए. इसके साथ ही सुरक्षा के मानकों का भी ध्यान रखना चाहिए। बताते चलें कि स्कूल वैन संचालक जिला परिवहन अधिकारी के उस आदेश के विरोध में आज हड़ताल पर हैं, जिसमें उन्होंने स्कूल वैन के लिए कॉमर्शियल रजिस्ट्रेशन अनिवार्य करने के साथ सुरक्षा उपायों को सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है. वहीं बता दें कि वैन संचालकों ने फिलहाल सिर्फ आज के लिए ही हड़ताल की घोषणा की है। उनका कहना है कि यदि प्रशासन ने अपना रवैया नहीं बदला तो विरोध आगे लंबा भी चल सकता है।

NEWSTODAYJHARKHAND.COM

Leave a Reply

Your email address will not be published.