• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

दिल्ली:WHO वैज्ञानिक ने बताया कोरोना नया वेरिएंट बहुत संक्रामक और जानलेवा, टीकाकरण ही एकमात्र उपाय कोरोना से बचाव का….

1 min read

दिल्ली:WHO वैज्ञानिक ने बताया कोरोना नया वेरिएंट बहुत संक्रामक और जानलेवा, टीकाकरण ही एकमात्र उपाय कोरोना से बचाव का….

NEWSTODAYJ_दिल्ली:विश्व स्वास्थ्य संगठन ( डब्ल्यूएचओ) की मुख्य वैज्ञानिक डॉ. सौम्या स्वामीनाथन ने भारत में कोरोना के कहर को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि देश में अचानक से कोरोना विस्फोट के पीछे का कारण इसका नया वैरिएंट है जो कि बहुत ही ज्यादा संक्रामक और जानलेवा है। उन्होंने कहा कि इससे बचने का एकमात्र उपाय टीकाकरण अभियान है जिसमें तेजी लाने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें…..दिल्ली में लॉकडाउन 17 मई तक बढ़ाया जा सकता है, कोरोना मामले में कमी पर मौतों की संख्या में कोई बदलाव नहीं

एएफपी समाचार एजेंसी को दिए साक्षात्कार में सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि भारत में तबाही इस बात का संकेत है कि कोरोना का नया वैरिएंट बहुत तेजी से फैल रहा है। डॉ. स्वामीनाथन ने कहा कि कोरोना का नया वैरिएंट B.1.617 जो कि अक्तूबर में भारत में पाया गया था वही अब रोजाना लाखों लोगों को अपने चपेट में ले रहा है। स्वामीनाथन ने कहा कि B.1.617 तेजी से म्यूटेट भी कर रहा है जो कि लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है।

उन्होंने कहा कि कोरोना का यह नया वैरिएंट अपने वास्तविक रूप से कई गुना ज्यादा खतरनाक है और बहुत तेजी से लोगों में फैल रहा है। उन्होंने कहा कि अमेरिका और ब्रिटेन जैसे देश इस वैरिएंट को गंभीरता से ले रहे हैं और मुझे उम्मीद है कि डब्ल्यूएचओ भी जल्द इसपर कोई न कोई शोध करेगा।

 

स्वामीनाथन ने कहा कि यह वैरिएंट इतना खतरनाक है कि यह शरीर में एंटीबॉडी बनाने से भी रोकता है और बहुत तेजी से म्यूटेट करता है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि भारत में संक्रमितों की संख्या में बेतहाशा वृद्धि और मौत के लिए सिर्फ कोरोना के नए वैरिएंट को ही जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है बल्कि इसके लिए लोगों की लापरवाही भी जिम्मेदार है। लोगों ने शारीरिक दूरी का ख्याल नहीं रखा वहीं कइयों ने मामले कम होने के बाद मास्क पहनना भी छोड़ दिया।

यह भी पढ़ें….दिल्ली:सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म `छिछोरे` फेम एक्ट्रेस अभिलाषा पाटिल का निधन

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य राजनेताओं द्वारा आयोजित बड़े पैमाने पर चुनावी रैलियां भी इसके लिए जिम्मेदार है। रैली में लाखों  लोगों की भीड़ जुटी जिसने इसे और तेजी से फैलने में मदद की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.